Gujarat Exclusive > देश-विदेश > माता वैष्णो देवी भवन के 12 पुजारी कोरोना संक्रमित, 16 अगस्त से होनी है यात्रा

माता वैष्णो देवी भवन के 12 पुजारी कोरोना संक्रमित, 16 अगस्त से होनी है यात्रा

0
400

देश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. ऐसे में अब धीरे-धीरे धार्मिक प्रतिष्ठानों को खोलने पर सरकार विचार कर रही है. इस सिलसिले में 16 अगस्त को माता वैष्णो देवी यात्रा शुरू होनी है लेकिन उससे ठीक पहले लगातार सामने आ रहे कोरोना के मामलों ने यात्रा पर संदेह की स्थिति पैदा कर दी है.

माता वैष्णो देवी भवन के आठ और पुजारी कोरोना संक्रमित पाए गए जाने की खबर है.

यह भी पढ़ें : गुजरात के इन जिलों में अगले 5 दिनों में अतिभारी बारिश का पूर्वानुमान

इसके साथ ही अब तक यहां कुल 12 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है.
ऐसे हालात में वैष्णो देवी यात्रा पर संशय पैदा हो गया है.

दो कथा पुजारी सहित 8 और संक्रमित

बुधवार को दो कथा पुजारी और छह अन्य पुजारी पॉजिटिव पाए गए.
इन्हें सभी को आइसोलेशन वार्ड में रेफर कर दिया गया है.
इससे पहले माता वैष्णो देवी भवन पर मंगलवार को तीन भजन गायक और एक जवान कोरोना से संक्रमित पाए गए थे.

ऑनलाइन पंजिकरण हो रहा

मालूम हो कि 16 अगस्त से माता वैष्णो देवी की यात्रा शुरू हो रही है.
इसके लिए रोजाना 5000 यात्रियों को दर्शनों की अनुमति होगी.
इसमें 500 यात्री प्रदेश के बाहर के हो सकते हैं.
भीड़ जमा न हो इसके लिए इन यात्रियों का पंजीकरण ऑनलाइन होगा.
प्रदेश के बाहर से आने वाले यात्रियों और जम्मू-कश्मीर में घोषित रेड जोन के यात्रियों के लिए कोरोना टेस्ट अनिवार्य किया गया है और यह टेस्ट निगेटिव आने पर ही यात्रा की अनुमति दी जाएगी.

इस यात्रा के दौरान कोरोना से बचने के लिए ज़रूरी सभी प्रोटोकॉल्स का भी पालन जरूरी किया गया है.
वहीं, सरकार ने 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों, गर्भवती महिलाओं, 10 साल से कम उम्र के बच्चों को यात्रा पर आने से बचने को कहा गया है.

जम्मू-कश्मीर में भी लगातार कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.
ऐसे में सरकार स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है और किसी आपात स्थिति के लिए कोई भी निर्णय ले सकती है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें