Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली के 29.1% लोगों में कोरोना के एंटीबॉडी, दूसरे सीरो सर्वे में खुलासा

दिल्ली के 29.1% लोगों में कोरोना के एंटीबॉडी, दूसरे सीरो सर्वे में खुलासा

0
412

देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच कई जगहों से कुछ राहत की खबरें सामने आ रही हैं. महाराष्ट्र की मुंबई में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं जबकि राजधानी दिल्ली में भी पिछले कुछ दिनों से कोरोना के संक्रमण में कमी देखी जा रही है. फिलहाल सीरो सर्वे को लेकर एक अच्छी खबर सामने आई है.

नए सीरो सर्वे में खुलासा हुआ है कि दिल्ली के 29.1 फीसदी लोगों में कोविड-19 एंटीबॉडी पाई गई है.

यह भी पढ़ें: राहुल का मोदी सरकार पर हमला, कहा- अर्थव्यवस्था के सर्वनाश का सच नहीं छुप सकता

रिपोर्ट के मुताबिक जुलाई के महीने में 29.1% लोगों में कोरोना एंटीबॉडी मिली है.
पहले सीरोलॉजिकल सर्वे में जून के महीने में 23.48% लोगों में एंटीबॉडी मिली थी. यानी दोनों सर्वे की रिपोर्ट की तुलना की जाये तो दिल्ली में 1 महीने कुल मिलाकर 5.62% लोगों में संक्रमण बढ़ा है जिनमे एंटीबॉडी मिली हैं.

स्वास्थ्य मंत्री ने दी जानकारी

दूसरे सीरो सर्वे की रिपोर्ट के बारे में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने जानकारी दी.

सतेंद्र जैन ने कहा,

देश की राजधानी दिल्ली में 1 से 7 अगस्त तक सीरो सर्वे सैम्पल लिए गए थे. इसके मुताबिक 29.1% लोगों में इस बार कोविड-19 एंटीबॉडी पाई गई है. दिल्ली की आबादी लगभग 2 करोड़ है. जिसमें से 15 हजार सैम्पल लिए गए थे.

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि दूसरे सीरो सर्वे में 28.3% पुरुषों और 32.2% महिलाओं में एंटीबॉडी पाई गयी है.
वहीं 60 लाख लोगों में एंटीबॉडी बन गयी हैं.
इससे पहले पहला सीरो सर्वे एनसीडीसी के तहत हुआ था.
उसमें करीब 23.48 फीसदी लोगों में एंटीबॉडी पाई गई थी.

सभी 11 जिलों में सर्वे

दिल्ली के सभी 11 जिलों में सर्वे कराया गया था.
इसके मुताबिक साउथ ईस्ट दिल्ली में सबसे ज़्यादा 33.2% लोगों में एंटीबॉडी पाई गई है.
पहले सीरो सर्वे में साउथ ईस्ट ज़िले में 22.12% लोगों में एंटीबॉडी पाई गई थीं.
यानी इस बार 50.09% की बढ़ोत्तरी यहां देखने को मिली है.
सबसे कम 16.3% एंटीबॉडीज साउथ वेस्ट ज़िले में पाई गई हैं.
पिछले सर्वे में यहां 12.95% लोगों में एंटीबॉडी पाई गई थीं.

खबरों के मुताबिक, दिल्ली में सीरो सर्वे के अगले दो चरण सितंबर और अक्टूबर महीने में होंगे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

स्वच्छ सर्वेक्षण 2020: स्वच्छ शहरों में इंदौर का दबदबा कायम, सूरत को मिला दूसरा स्थान