Gujarat Exclusive > गुजरात > कोरोना को मात देने वाले गुजरात के 40 मुस्लिमों का फैसला, इलाज के लिए दान करेंगे प्लाज्मा

कोरोना को मात देने वाले गुजरात के 40 मुस्लिमों का फैसला, इलाज के लिए दान करेंगे प्लाज्मा

0
3265

गुजरात के वडोदरा में कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक हुए करीब 40 मुस्लिम मरीजों ने गुरुवार को अन्य मरीजों के इलाज के लिए अपना प्लाज्मा दान देने का फैसला किया. उनके प्लाज्मा से करीब 100 कोरोना मरीजों का इलाज हो सकेगा. केंद्र सरकार ने गुजरात में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए हाल ही में प्लाज्मा थेरेपी का इस्तेमाल करने की अनुमति दी है. प्लाज्मा थेरेपी से बेहद गंभीर मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जाता है.

मुस्लिम समुदाय के एक नेता जुबेर गोपलानी ने जानकारी देते हुए बताया कि लगातार दो बार कोरोना जांच में नेगेटिव आने के बाद 44 मुस्लिम मरीजों को छोड़ दिया गया. इन सभी में बीमारी के लक्षण नहीं थे और ये संक्रमण के शुरुआती दौर में थे. देखरेख और बेहतर खान-पान के बाद इनमे अब संक्रमण नहीं है. साथ ही इनके शरीर में कोरोना से लड़ने वाले एंटीबॉडीज मौजूद हैं.

वडोदरा कोविड-19 सेंटर के इंचार्ज विनोद राव ने बताया, हमने इनमें दूसरे साथियों की जान बचाने के लिए प्लाज्मा दान करने की मांग की थी जिसे 40 से अधिक मरीजों ने मान लिया है. स्वास्थ्य कर्मियों को इसकी जानकारी दे दी गई है. बहुत जल्द इनका प्लाज्मा लेने की प्रकिया शुरू की जाएगी.

कोरोना के चपेट में आए सूरत के 12 स्वास्थ्यकर्मी, 30 अप्रैल तक बंद रहेगा अस्पताल