Gujarat Exclusive > देश-विदेश > बिहार में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत, गोपालजंग में 13 की मृत्यु

बिहार में बिजली गिरने से 83 लोगों की मौत, गोपालजंग में 13 की मृत्यु

0
2763

पहले ही कोरोना की मार झेल रहे बिहार पर बिजली कहर बनकर टूटी है. बिहार में गुरुवार को बिजली गिरने से 23 अलग-अलग जिलों में 83 लोगों की मौत हो गई. आपदा प्रबंधन विभाग ने इसकी पुष्टि की है. आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक़ 25 जून (गुरुवार) शाम साढ़े छह बजे तक मिली जानकारी के अनुसार 83 लोगों की मौत हुई है. राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग ज़िलों से फ़ोन पर मिलने वाली जानकारी के आधार पर यह सूची जारी की है. उधर राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रत्येक मृतक के परिवार को 4-4 लाख रुपये देना का ऐलान किया है.

सर्वाधिक मौतें गोपालगंज में हुईं हैं जहां 13 लोगों ने जान गंवाई है. इसके अलावा मधुबनी और नवादा में 8-8 तथा सीवान व भागलपुर में 6-6 लोगों की मौत हुई. दरभंगा, पूर्वी चंपारण और बांका में 5-5 व्यक्ति की मौत हुई. खगड़िया और औरंगाबाद में 3-3 तथा पश्चिमी चंपारण, किशनगंज, जहानाबाद, जमुई, पूर्णिया, सुपौल, कैमूर व बक्सर में 2-2 लोगों की मौत हुई है. समस्तीपुर, शिवहर, सारण, सीतामढ़ी और मधेपुरा में एक-एक व्यक्ति की जान गई.

वहीं पीएम मोदी ने इस दुखद घटना पर दुख प्रकट किया है. पीएम मोदी ने कहा, मुझे बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में भारी बारिश और बिजली गिरने के कारण कई लोगों की मौत की दुखद खबर मिली है. राज्य के राहतकर्मी राहत कार्य में लगे हुए हैं. मैं उन परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं जिन्होंने इस आपदा में अपने प्रियजनों को खो दिया.

बिहार के अलावा उत्तर प्रदेश में भी बिजली गिरने से कुछ लोगों की मौत की ख़बर है. देवरिया में बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए हैं. मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर के जेनामानी ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा है कि अगले तीन दिनों तक असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल का उप-हिमालयी क्षेत्र और सिक्किम में भारी बारिश होने वाली है. इसकी वजह से बाढ़ आने की भी संभावना है. हमने केंद्र और राज्य सरकारों को इस बारे में सूचित कर दिया है.

सचिन पायलट की ख्वाहिश, ‘राहुल गांधी फिर संभालें कांग्रेस की कमान’