Gujarat Exclusive > गुजरात > ओमीक्रॉन का डर: दक्षिण अफ्रीका से सूरत आए 9 लोग, सभी को किया गया होम क्वारंटाइन

ओमीक्रॉन का डर: दक्षिण अफ्रीका से सूरत आए 9 लोग, सभी को किया गया होम क्वारंटाइन

0
162

गांधीनगर: कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन की वजह से दुनिया के कई देशों में हंगामा मचा हुआ है. दुनिया के कई देशों में अफ़्रीकी देशों से आने वाले यात्रियों पर रोक लगा दी है. वहीं कुछ देशों में प्रभावित देश के यात्रियों के लिए क्वारंटाइन अनिवार्य कर दिया है. इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि पिछले 15 दिनों में ब्रिटेन समेत 13 देशों से लोग सूरत आए हैं.

9 लोग दक्षिण अफ्रीका से आए

सूरत में ओमीक्रॉन वेरिएंट को लेकर सतर्कता बढ़ा दी गई है. पिछले 15 दिनों में विदेश से आए 351 लोगों को क्वारंटाइन किया गया है. 351 में से 9 लोग दक्षिण अफ्रीका से आए हैं. गौरतलब है कि कोरोना के नए वेरिएंट से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की लिस्ट में दक्षिण अफ्रीका पहले पायदान पर है.

यात्रियों की RT-PCR टेस्टिंग की शुरुआत

उल्लेखनीय है कि इन सभी को नगर पालिका की टीम ने होम क्वारंटाइन किया है. इतना ही नहीं जिनमें से 78 लोगों का आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया है. इनमें से अभी तक किसी की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है. बाकी यात्रियों का RT-PCR टेस्ट करने का काम चल रहा है.

गुजरात सरकार की ओर से जारी नई गाइड लाइन के मुताबिक अब यूके, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, बोतसवाना, चाइना, मॉरीशस, न्यूज़ीलैंड, जिम्बाब्वे, हॉन्गकॉन्ग से आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR अनिवार्य किया गया है. कोरोना के इस नए वेरिएंट को पहले से ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है.

वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि इस नए वेरिएंट में कम से कम 10 म्यूटेशन हैं. जबकि डेल्टा में सिर्फ दो तरह के म्यूटेशन देखे गए थे. म्युटेटिंग यानी वायरस की आनुवंशिक सामग्री में बदलाव, इस बीच नए संस्करण की उत्पत्ति के बारे में अटकलें लगाई जा रही हैं कि एक ही रोगी से विकसित हो सकता है. लंदन स्थित यूसीएल जेनेटिक्स इंस्टीट्यूट के निदेशक फ्रेंकोइस बोलॉक्स का सुझाव है कि यह कम प्रतिरक्षा प्रणाली वाले व्यक्ति में पुराने संक्रमण से उत्पन्न हो सकता है.

फिल्म की प्रमोशन के लिए अहमदाबाद पहुंचे सालमान खान, गांधी आश्रम का किया दौरा