Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात कोरोना टीकाकरण: CM रुपाणी का अहम फैसला, अब आधार कार्ड की जरूरत नहीं

गुजरात कोरोना टीकाकरण: CM रुपाणी का अहम फैसला, अब आधार कार्ड की जरूरत नहीं

0
333

गांधीनगर: गुजरात में कोरोना के बढ़ते आतंक पर काबू पाने लिए राज्य सरकार ने वैक्सीनेशन पर जोर दिया है.

इस बीच मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में कोरोना टीकाकरण को लेकर एक महत्वपूर्ण बयान दिया है. Aadhaar Card Not Necessary

विजय रूपाणी ने कहा कि अब कोरोना की वैक्सीन लेने वालों के लिए आधार कार्ड की जरूरत नहीं होगी. राज्य में सोमवार तक 38.78 लाख लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है.

अब आधार कार्ड की जरूरत नहीं Aadhaar Card Not Necessary

सीएम रुपाणी के निर्णय के अनुसार, राज्य में मौजूद भिक्षुक गृह, वृद्धाश्रमों और अपंग कल्याणकारी संस्थानों में रहने वाले 45 वर्ष से अधिक आयु के लोग कोमॉरबिड या अन्य गंभीर बीमारी से पीड़ित है ऐसे लोगों ने बिना आधार कार्ड के कोरोना वैक्सीन दी जाएगी. Aadhaar Card Not Necessary

मुख्यमंत्री रुपाणी ने ऐसे संस्थानों में रहने वाले 60 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों का बिना आधार कार्ड के टीकाकरण करने का भी निर्णय लिया है.

टीकाकरण की स्थिति Aadhaar Card Not Necessary

गुजरात में अब तक कुल 32,74,493 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक दी गई है और 6,03,693 लोगों को वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई है.

आज राज्य में कुल 2,32,831 लोगों को टीका लगाया गया. Aadhaar Card Not Necessary

गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने बीते दिनों जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना पर काबू पाने के लिए रविवार को भी टीकाकरण किया गया था.

छुट्टी वाले दिन यानी रविवार को 2.07 लाख लोगों को टीका लगाया गया था. इतना ही नहीं गुजरात में हर दिन 2 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा रहा है.

रविवार को छुट्टी वाले दिन भी वैक्सीनेशन के काम को जारी रखा गया.

कोरोना पर काबू पाने के लिए सभी लोगों के लिए तेजी से टीकाकरण की व्यवस्था की गई है. Aadhaar Card Not Necessary

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पाटण: प्राथमिक स्कूल में नाबालिग के साथ सामूहिक बलात्कार, वीडियो वायरल