Gujarat Exclusive > गुजरात > राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज की हालत गंभीर, विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम कर रही इलाज

राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज की हालत गंभीर, विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम कर रही इलाज

0
422
  • राजकोट में कोरोना का बढ़ता जा रहा है कहर
  • राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज कोरोना संक्रमित
  • शरीर में रक्त के थक्के जमने की वजह से खराब हुई हालत

राजकोट: गुजरात में कोरोना का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. उसमें भी राजकोट की स्थित हर दिन नाजुक होती जा रही है.

कोरोना की चपेट में आने के बाद भाजपा के राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज की हालत दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है.

उनके इलाज के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम को राजकोट बुलाया गया है.

विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम कर रही इलाज

विशेष डॉक्टरों की एक टीम राजकोट पहुंच चुककर उनका इलाज कर रही है. जिसमें अहमदाबाद से तीन और सूरत से एक विशेषज्ञ डॉक्टर शामिल हैं.

राजकोट पहुंचने के बाद डॉक्टरों की टीम अभय भारद्वाज का ईसीएमओ उपचार शुरू कर दिया है.

वेंटिलेटर के सपोर्ट पर अभय भारद्वाज

राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज कोरोना की चपेट में आने के बाद राजकोट सिविल अस्पताल में भर्ती हुए थे. लेकिन13 तारीख को उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई थी.

जिसकी वजह से उन्हें वेंटिलेटर के सपोर्ट पर रखा गया है. मिल रही जानकारी के अनुसार उन्हें सांस लेने में परेशानी हो रही है.

फेफड़े में रक्त का जमा हो गया है थक्का: डॉ. अतुल पटेल

अभय भारद्वाज के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी देते हुए डॉ. अतुल पटेल ने कहा, “उनके शरीर में ऑक्सीजन की तुलना में अधिक कार्बन डाइऑक्साइड है. ऑक्सीजन-कार्बन डाइऑक्साइड का स्तर बनाए नहीं रखा जा रहा.

इसकी वजह से फेफड़ों में रक्त का थक्का जम गया है. पिछले 3 हफ्तों से उनका इलाज चल रहा है. रोगी आमतौर पर दो सप्ताह के भीतर ठीक हो जाता है. लेकिन उनकी हालत पहले से ज्यादा खराब होती जा रही है.”

यह भी पढ़ें: कोरोना के मानदंडों की अनदेखी के कारण अहमदाबाद में 31 चाय स्टॉल सील

आपको बता दें कि राज्यसभा सांसद अभय भारद्वाज की तबीयत खराब होने की वजह से सीएम रुपाणी ने उनके लिए अहमदाबाद से डॉ. तुषार पटेल, डॉ. आनंद शुक्ल, डॉ. अमित पटेल की टीम को कैबिनेट मंत्री भूपेंद्रसिंह चुडासमा को चार्टर्ड फ्लाइट से राजकोट भेजा है.

सूरत के विशेषज्ञ डॉ. समीर गामी की मदद ली जा रही है: भूपेंद्रसिंह चुडासमा

इस सिलसिले में जानकारी देते हुए भूपेंद्रसिंह चुडासमा ने भी कहा, “मैं अहमदाबाद से 3 डॉक्टरों को लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के निर्देशा पर यहां आया हूं.

डॉक्टर अभय भारद्वाज की एम्स के डॉक्टर के मार्गदर्शन में इलाज कर रहे हैं. सूरत के विशेषज्ञ डॉ. समीर गमी की भी मदद ली जा रही है. डॉक्टर गामी को भी राजकोट बुलाया गया है.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अहमदाबादः बलात्कार की नाकाम कोशिश के बाद मामा ने कर डाली 7 साल की बच्ची की हत्या