Gujarat Exclusive > राजनीति > कपिल सिब्बल पर भड़के अधीर रंजन, कहा-बिना कुछ किए बोलना आत्मनिरीक्षण नहीं

कपिल सिब्बल पर भड़के अधीर रंजन, कहा-बिना कुछ किए बोलना आत्मनिरीक्षण नहीं

0
409

बीते दिनों के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने एक बार फिर पार्टी के अंदरुनी उथल-पुथल को मीडिया के सामने रख दिया था. Adhir Ranjan attacked Sibal

बिहार विधानसभा चुनाव के साथ ही साथ कई राज्यों में होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस को मिलने वाली हार के बाद कपिल सिब्बल ने आलाकमान को आत्मनिरीक्षण करने की सलाह दिया था.

उनके इस बयान से नया विवाद खड़ा हो गया था.

सिब्बल को अधीर रंजन ने दिखाया आईना

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बाद लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी सिब्बल को आड़े हाथों लिया है. रंजन ने कहा कि बिना कुछ किए बोलना आत्मनिरक्षण नहीं हो सकता.

इतना ही नहीं उन्होंने सिब्बल का नाम लिए बगैर कहा कि जो लोग कांग्रेस की उपेक्षा कर रहे हैं. Adhir Ranjan attacked Sibal

शर्मनाक गतिविधियों में लिप्त हैं ऐसे लोग या तो अपनी पार्टी बना लें या फिर दूसरी पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि बिहार के साथ ही साथ अन्य राज्यों में होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस को मिलने वाली हार पर बोलना गलत है.

अगर कपिल सिब्बल बिहार और मध्य प्रदेश में चले जाते तो शायद कांग्रेस की स्थिति मजबूत हो सकती थी. लेकिन सिर्फ बात करने से कुछ नहीं होने वाला.

बिना कुछ किए बोलने का मतलब आत्मनिरीक्षण नहीं है. Adhir Ranjan attacked Sibal

बीते दिनों सिब्बल ने दी थी सलाह Adhir Ranjan attacked Sibal

अंग्रेजी अखबार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से बातचीत में कपिल सिब्बल ने कहा, न केवल बिहार में, बल्कि जहां भी उपचुनाव हुए हैं, कांग्रेस को एक प्रभावी विकल्प नहीं मानते हैं.

यह एक निष्कर्ष है. बिहार में राजद ही एकमात्र विकल्प था. हम गुजरात में सभी उपचुनाव हार गए. हम लोकसभा चुनाव में एक भी वहां एक सीट नहीं जीत पाए.

उत्तर प्रदेश की कुछ सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवारों को 2 फीसदी से भी कम वोट मिले. मुझे उम्मीद है कि कांग्रेस आत्मनिरीक्षण करेगी. Adhir Ranjan attacked Sibal

इतना ही नहीं सिब्बल ने कहा कांग्रेस हर सवाल का जवाब जानती है लेकिन नहीं देती जवाब उन्होंने कहा कांग्रेस ने छह साल तक आत्ममंथन नहीं किया है तो अब हम क्या उम्मीद कर सकते हैं?

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कपिल सिब्बल ने फिर कांग्रेस नेतृत्व का उठाया मुद्दा, कहा- पार्टी बदलाव के लिए नहीं है गंभीर