Gujarat Exclusive > राजनीति > एडीआर की रिपोर्ट : 2018-19 में भाजपा को मिले चंदे में 70 फीसदी का इजाफा, कांग्रेस का चंदा 457 फीसदी बढ़ा

एडीआर की रिपोर्ट : 2018-19 में भाजपा को मिले चंदे में 70 फीसदी का इजाफा, कांग्रेस का चंदा 457 फीसदी बढ़ा

0
245

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को चंदा में मिले पैसे में 2018-19 में अच्छी खासी संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा को 2018-19 में 742 करोड़ रूपये चंदे में मिले जबकि कांग्रेस को 148 करोड़ रूपये चंदा मिला. इन दोनों प्रमुख दलों ने चुनाव आयोग को दिए अपने-अपने हलफनामों में ये जानकारी दी है.

एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक भाजपा को 2017-18 के 437.04 करोड़ रूपये का चंदा मिला था जो बढ़कर 2018-19 में 742.15 करोड़ हो गया. यानी इस दौरान उसके चंदे में 70 फीसद का इजाफा हुआ. एडीआर के अनुसार कांग्रेस का चंदा 2017-18 के 26 करोड़ रूपये से बढ़कर 2018-19 में 148.58 करोड़ रूपये हो गया. यानी उसका चंदा 457 फीसद बढ़ा. हालांकि पार्टी के चंदे में 2016-17 से 2017-18 के दौरान 36 फीसद की कमी आ गयी थी. एडीआर की रिपोर्ट में सात राष्ट्रीय दलों को प्राप्त हुई दान राशि का विश्लेषण किया गया है.

एडीआर ने अपनी रिपोर्ट में बताया, ‘भाजपा ने 4483 चंदों से 742.15 करोड़ रूपये मिलने की घोषणा की जबकि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने 605 चंदों से 148.58 करोड़ रूपये मिलने की घोषणा की.’ एडीआर के अनुसार भाजपा को मिला कुल चंदा कांग्रेस, राकांपा, भाकपा, माकपा, और तृणमूल कांग्रेस को मिले कुल चंदे के तीन गुणा से भी अधिक है. रिपोर्ट में बताया गया है कि बीएसपी, कांग्रेस,एनसीपी और तृणमूल कांग्रेस ने अपना दान रिपोर्ट निर्धारित समय से पहले प्रस्तुत किया है जबकि सीपीआई ने 3 दिन बाद, सीपीएम ने 21 दिन बाद और बीजेपी ने 31 दिनों की देरी के बाद चुनाव आयोग को जमा किया है.