Gujarat Exclusive > यूथ > स्पिरिट ऑफ क्रिकेट का अवार्ड मिलने के बाद, विराट कोहली ने कहा- ऐसा कैसे हो गया

स्पिरिट ऑफ क्रिकेट का अवार्ड मिलने के बाद, विराट कोहली ने कहा- ऐसा कैसे हो गया

0
139

विराट कोहली मैदान पर अपने आक्रामक बर्ताव के लिए हमेशा सुर्खियों में रहे हैं और ऐसे में जब उन्हें ‘स्पिरिट ऑफ क्रिकेट’ का अवॉर्ड मिला तो उन्होंने इस पर हैरानी जाहिर की. विराट को ये अवॉर्ड इस वजह से दिया गया क्योंकि साल 2019 वनडे विश्व कप के दौरान उन्होंने स्टीव स्मिथ पर हूटिंग करने से दर्शकों को रोका था. स्मिथ टेस्ट क्रिकेट में गेंद के साथ छेड़खानी प्रकरण एक साल का बैन झेलने के बाद क्रिकेट में वापस लौटे थे और दर्शक उनका खूब हूटिंग करते थे, लेकिन विराट ने उन्हें रोका था. अब विराट के बर्ताव में काफी बदलाव आया है.

इंग्लैंड में हुए विश्व कप के दौरान स्टेडियम में बैठे फैंस को स्टीव स्मिथ की हूटिंग की बजाय हौसला अफजाई करने की अपील करने के कारण विराट कोहली को स्पिरिट ऑफ क्रिकेट अवार्ड दिया गया. दरअसल, मैच में कप्तान कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे. उस वक्त बाउंड्री के पास खड़े स्मिथ को दर्शकों ने स्मिथ को चिढ़ाना शुरू कर दिया था. तब कोहली ने इशारों से इस पर नाराजगी जताते हुए दर्शकों से स्मिथ का उत्साहवर्धन करने को कहा था. विराट कोहली ने स्पिरिट ऑफ द क्रिकेट का अवॉर्ड मिलने के बाद कहा कि मुझे हैरानी हो रही है कि मुझे ये सम्मान क्यों दिया गया क्योंकि इतने साल तक गलत कारणों से मुझे लगातार कटघरे में रखा गया.

हूटिंग की घटना के बारे में विराट ने कहा कि स्मिथ की उस वक्त की हालत को देखते हुए मैंने ऐसा किया था. मुझे नहीं लगता कि इस तरह कि हालत के निकलकर आए किसी खिलाड़ी की परिस्थिति का फायदा उठाना चाहिए. आप छींटाकशी कर सकते हैं और विरोधी टीम को हराने के लिए कई तरह की बातें कह सकते हैं लेकिन किसी की हूटिंग करना सही नहीं है. मैं इसके पक्ष में कतई नहीं हूं.