Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के खंभात में भड़की हिंसा के बाद, राज्य सरकार ने लिया फैसला, लागू किया जाएगा अशांत धारा कानून

गुजरात के खंभात में भड़की हिंसा के बाद, राज्य सरकार ने लिया फैसला, लागू किया जाएगा अशांत धारा कानून

0
233

गुजरात की पुलिस जब अहमदाबाद में नमस्ते ट्रंप समारोह मे व्यस्त थी उसी दौरान गुजरात के खंभात में क्रिकेट खेलने की बात को लेकर दो गुटों में झगड़े के बाद हिंसा फैल गई. हिंसा के दौरान कई मकान व गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. हिंसा में एक की मौत हो गई, जबकि कई पुलिसकर्मी घायल बताये जा रहे हैं. घटना के विरोध में आज खंभात बंद रखने का ऐलान किया गया.

आंणद जिला के खंभात में एक महीने के अंदर एक ही जगह पर दो-दो सांप्रदायिक हिंसा के बाद अब गुजरात सरकार इस इलाके में अशांत धारा कानून लागू करने का प्लान बना रही है. घटना के बाद आज गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने कहा कि “खंभात में जनसांख्यिकीय परिवर्तन की वजह से अक्सर ऐसी घटनाएं सामने आती हैं. इसलिए राज्य सरकार ने फैसला किया है खंभात में अशांत धारा कानून को लागू करने की प्रक्रिया शुरू की जानी चाहिए.उन्होंने कहा कि सीसीटीवी फुटेज एकत्र किए जा रहे हैं, जिन्होंने भी खंभात की शांति और सुरक्षा को बिगाड़ने की कोशिश की है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. अलग-अलग 4 मामला दर्ज कर 47 लोगों को अभीतक गिरफ्तार किया है. खंभात की सुरक्षा को बिगाड़ने के लिए साजिश रचने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

क्या अशांत धारा कानून लागू करने से समस्या का समाधान होगा?

गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा से जब पत्रकारों ने सवाल पूछा कि क्या खंभात में अशांत धारा कानून लागू करने से समस्या का समाधान होगा, तब उन्होंने कहा, “खंभात की मुख्य समस्या ये है कि दो समुदायों के लोग आसपास रहते हैं जिनके खाने-पीने और रहने का तौर-तरीका अलग-अलग है इसलिए छोटी-छोटी बात को लेकर झगड़ा हो जाता है इसलिए गुजरात सरकार डेमोग्राफिकल चैंज ना हो इसके लिए खंभात में अशांत धारा कानून को लागू करने का निर्णय लिया है.