Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात: अहमद पटेल के बच्चों ने राजनीति में आने से किया इनकार

गुजरात: अहमद पटेल के बच्चों ने राजनीति में आने से किया इनकार

0
579

गांधीनगर: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल के निधन के बाद उनके बच्चों का राजनीति में एंट्री करने को लेकर अटकलें तेज हो गई थी.

हालाँकि अब अहमद पटेल के बच्चों ने यह कहते हुए सभी अटकलों पर विराम लगा दिया है कि वे राजनीति में शामिल नहीं होंगे.

अहमद पटेल के पुत्री और पुत्री ने कहा कि वह अपने पिता के सामाजिक कार्यों को जारी रखेंगे. Ahmed Patel Children Politics

गुलाम नबी आजाद ने दिया था संकेत

हाल ही में, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद अहमद पटेल को श्रद्धांजलि देने उनके गृह नगर पिरमण आए थे. इस मौके पर उन्होंने अहमद पटेल के बच्चों को राजनीति में लाने का संकेत दिया था.

तब से इनका राजनीति में आने की अटकलें तेज हो गई थी. लेकिन अब अहमद पटेल के दोनों बच्चों ने राजनीति में आने का कोई इरादा नहीं करने का खुलासा किया है.

यह भी पढ़ें: अहमदाबाद: सिविल अस्पताल 5 और डॉक्टर कोरोना से संक्रमित

गुजरात से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अहमद पटेल का बुधवार को निधन हो गया था. वह अगस्त 2017 में राज्यसभा के लिए चुने गए थे. उनके निधन से राज्यसभा की एक सीट खाली हो गई.

इस बीच अहमद पटेल के बेटे फैसल और बेटी मुमताज ने सोशल मीडिया पर एक संदेश पोस्ट कर राजनीति में शामिल होने से इनकार कर दिया है.

अहमद पटेल ने राजनीति में आने से किया इनकार Ahmed Patel Children Politics

मुमताज ने कहा, “बहुत से लोग मेरे राजनीति में आने की बात कर रहे हैं. वह लोग अहमद पटेल के सामाजिक कार्यों को आगे बढ़ाने की मांग कर रहे हैं.

पिताजी ने शिक्षा, स्वास्थ्य और सामाजिक के क्षेत्र में बहुत काम किया है. इसलिए वह अपने पिता के काम को आगे बढ़ाते हुए गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा करना चाहती हैं.

इस मौके पर अहमद पटेल के बेटे फैसल ने भी अपने पिता की सेवा जारी रखने का दावा कर रहे हैं. Ahmed Patel Children Politics

राज्यसभा की खाली सीट के लिए चुनाव दिसंबर या जनवरी में होने की संभावना है. अगर चुनाव होता है तो भाजपा चुनाव आसानी से जीत जाएगी.

गुजरात विधानसभा में भाजपा के 111 विधायक हैं. जबकि कांग्रेस के विधायकों की संख्या 65 है. Ahmed Patel Children Politics

हाल ही में हुए गुजरात विधानसभा उपचुनाव में भाजपा ने सभी आठ सीटों पर शानदार जीत दर्ज की थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

दिल्ली के तर्ज पर अब गुजरात में भी सिर्फ 800 रुपये में होगा कोरोना का टेस्ट