Gujarat Exclusive > राजनीति > अहमद पटेल के निधन से शोक में डूबा राजनीति जगत, मनमोहन सिंह ने लिखी भावुक चिट्ठी

अहमद पटेल के निधन से शोक में डूबा राजनीति जगत, मनमोहन सिंह ने लिखी भावुक चिट्ठी

0
330

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल (Ahmed Patel) का आज तड़के गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया. 71 साल के अहमद पटेल (Ahmed Patel) करीब एक महीना पहले कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे. जानकारी के मुताबिक, इलाज के दौरान उनके (Ahmed Patel) कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था जिसकी वजह से उनकी मृत्यु हो गई.

कांग्रेस नेता (Ahmed Patel) के बेटे फैजल पटेल ने ट्वीट कर कहा कि वे बेहद दुख के साथ अपने पिता अहमद पटेल की दुखद और असामयिक मृत्यु की घोषणा कर रहे हैं. फैजल पटेल ने कहा कि 25 तारीख को सुबह 3.30 पर उनके पिता का निधन हो गया. फैसल पटेल ने कहा कि लगभग एक महीना पहले उनके पिता कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. फैजल पटेल ने कहा कि गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था, जहां उन्होंने आखिरी सांस ली.

 

राष्ट्रपति और पीएम ने भेजी संवेदना

अहमद पटेल (Ahmed Patel) के निधन पर कांग्रेस सहित राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमद पटेल (Ahmed Patel) के निधन पर शोक जताया है. उन्होंने और उनके बेटे फैजल पटेल से फोन पर बात की है.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के दिग्गज नेता अहमद पटेल का निधन, एक महीने पहले कोरोना से हुए थे संक्रमित

पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,”अहमद पटेल (Ahmed Patel) जी के निधन से दुखी हूं. उन्होंने सार्वजनिक जीवन में कई साल समाज की सेवा में बिताए. अपने तेज दिमाग के लिए जाने जाने वाले अहमद पटेल को कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने में उनकी भूमिका हमेशा याद की जाएगी. उनके बेटे फैजल से बात की है और संवेदना व्यक्त की. अहमद भाई की आत्मा को शांति मिले.”

 

पीएम मोदी ने लिखा,

”अहमद भाई बहुत ही धार्मिक व्यक्ति थे और कहीं पर भी रहें, नमाज़ पढ़ने से कभी नहीं चूकते थे. आज देव उठनी एकादशी भी है जिसका सनातन धर्म में बहुत महत्व है. अल्लाह उन्हें जन्नतउल फ़िरदौस में आला मक़ाम अता फ़रमाएं. आमीन.”

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लिखा, यह जान बहुत दुख हुआ कि दिग्गज कांग्रेस नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel) अब नहीं रहे. एक चतुर सांसद पटेल ने एक रणनीतिकार और एक बड़े नेता के आकर्षण के कौशल को जोड़ा. उनकी महत्वाकांक्षा ने उन्हें पार्टी से बढ़कर सम्मान दिलाया. उनके परिवार और दोस्तों को मेरी संवेदनाएं.

 

मनमोहन सिंह की भावुक चिट्ठी

अहमद पटेल की पत्नी मैमूना अहमद को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ओर से लिखी गई चिट्ठी में कहा गया है,

‘अहमद पटेल के निधन के कारण कांग्रेस पार्टी और हमारे देश ने एक बहुत अच्छे नेता को खो दिया है, जो हमेशा समाज के गरीब और दलित लोगों की भलाई के लिए सोचते थे. उनके ज्ञान की तुलना किसी से भी नहीं की जा सकती है. उनके निधन के कारण देश ने और कांग्रेस पार्टी ने एक अच्छे नेता को खो दिया है. मेरी पत्नी और मेरी तरफ से आपके और आपके परिवार को पूरी संवेदना है. हमारी प्रार्थना है कि ईश्वर आपको इस दुख की घड़ी में इस क्षति को सहने की शक्ति दे.’

मैंने अपना एक साथी खो दिया- सोनिया गांधी

वहीं उनके (Ahmed Patel) निधन से कांग्रेस में शोक की लहर है. एक शोक संदेश में सोनिया गांधी ने कहा,

‘अहमद पटेल के जाने से मैंने एक ऐसा सहयोगी खो दिया है जिनका पूरी जीवन कांग्रेस पार्टी को समर्पित था. उनकी निष्ठा और समर्पण, अपने कर्तव्य के प्रति उनकी प्रतिबद्धता, मदद के लिए हमेशा मौजूद रहना और उनकी शालीनता कुछ ऐसी खूबियां थीं, जो उन्हें दूसरों से अलग बनाती थीं. मैंने ऐसा कॉमरेड, निष्ठावान सहयोगी और मित्र खो दिया जिनकी जगह कोई नहीं ले सकता. मैं उनके निधन पर शोक प्रकट करती हूं और उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करती हूं.’

अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी के स्तंभ थे- राहुल

वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लिखा, ”यह एक दुखद दिन है. अहमद पटेल कांग्रेस पार्टी के एक स्तंभ थे. वह अपने सबसे कठिन समय में पार्टी के साथ खड़े रहे. वह एक जबरदस्त संपत्ति थे. हम उन्हें हमेशा याद करेंगे. फैजल, मुमताज और परिवार को मेरा प्यार और संवेदना.”

 

गृहमंत्री शाह ने जताई संदेवना

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल जी के निधन की सूचना अत्यंत दुःखद है. अहमद पटेल जी का कांग्रेस पार्टी और सार्वजनिक जीवन में बड़ा योगदान रहा। मैं दुःख की इस घड़ी में उनके परिजनों और समर्थकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं. ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें.’’

जेपी नड्डा और राजनाथ सिंह की संवेदना

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने ट्वीट किया, ‘‘वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल जी के निधन से गहरी पीड़ा हुई है. दुख की इस घड़ी में मैं कामना करता हूं कि ईश्वर उनके परिवार के सदस्यों और समर्थकों को पीड़ा सहन करने की शक्ति दें.’’ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा, ‘‘हर राजनीतिक दल में अहमद भाई के मित्र थे. मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और चाहने वालों के साथ है.’’

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा, ‘‘कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद अहमद पटेल जी के निधन का समाचार सुनकर दुख हुआ. इस दुःखद घड़ी में उनके परिजनों और समर्थकों के प्रति मेरी संवेदना है.

दोस्ती निभाने वाले का चले जाना दुखद- हार्दिक

अहमद पटेल के निधन पर कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने लिखा है, ”जब भी मैं दिल्ली अहमद भाई से मिलने जाता था तब वो मुझे बिना खाना खिलाए नहीं जाने देते थे. अहमद भाई सच में बहुत अच्छे व्यक्ति थे. वादा और दोस्ती निभाने वाले इस व्यक्ति का अचानक चले जाना हम सब के लिए दुःखद हैं. भगवान उनके परिवार को हिम्मत दें. ॐ शान्ति.”

वे हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे- दिग्विजय

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय ने ट्वीट किया,

‘‘अहमद पटेल नहीं रहे. एक अभिन्न मित्र, विश्वसनीय साथी चला गया. हम दोनों सन 1977 से साथ रहे. वे लोकसभा में पहुँचे, मैं विधान सभा में. हम सभी कांग्रेसियों के लिए वे हर राजनैतिक मर्ज़ की दवा थे. मृदुभाषी, व्यवहार कुशल और सदैव मुस्कुराते रहना उनकी पहचान थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी कितना ही गुस्सा हो जाए, उनमें यह क्षमता थी कि वे उसे संतुष्ट करके ही भेजते थे. मीडिया से दूर, पर कांग्रेस के हर फैसले में शामिल. कड़वी बात भी बेहद मीठे शब्दों में कहना उनसे सीख सकता था. कांग्रेस पार्टी उनका योगदान कभी भी नहीं भुला सकती. अहमद भाई अमर रहें.‘’

दिग्विजय ने आगे लिखा, ‘‘अहमद भाई बहुत ही धार्मिक व्यक्ति थे और कहीं पर भी रहें, नमाज़ पढ़ने से कभी नहीं चूकते थे. आज देवउठनी एकादशी भी है जिसका सनातन धर्म में बहुत महत्व है. अल्ला उन्हें जन्नतउल फ़िरदौस में आला मक़ाम अता फ़रमाएँ. आमीन.

इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, एआईआईएम के अध्यक्ष असद्दुदीन ओवैसी और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला जैसे तमाम बड़े नेताओं ने उनकी मृत्यु पर शोक जाहिर किया है.

 

 

 

 

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें