Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद में 700 टीआरबी जवान बर्खास्त, अवैध वसूली और कदाचार का आरोप

अहमदाबाद में 700 टीआरबी जवान बर्खास्त, अवैध वसूली और कदाचार का आरोप

0
80

अहमदाबाद: शहर में ट्रैफिक ब्रिगेड के जवानों का वाहन चालकों से की जा रही अवैध वसूली और दादागिरी को उजागर करता कई वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. जिसके बाद अहमदाबाद में 700 टीआरबी कर्मियों को एक साथ बर्खास्त कर दिया गया है. 700 नए जवानों की भर्ती अगले 3 साल के लिए की जाएगी. ट्रैफिक पुलिस में भ्रष्टाचार और कदाचार पर अंकुश लगाने के लिए अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस ने यह बड़ा फैसला लिया है. कदाचार और भ्रष्टाचार में लिप्त टीआरबी के जवानों को एक साथ बर्खास्त कर दिया गया है.

नवनियुक्त टीआरबी कर्मियों को किया जाएगा प्रशिक्षण

उल्लेखनीय है कि कदाचार के आरोपी करीब 700 टीआरबी जवानों को एक साथ बर्खास्त कर दिया गया है. इनकी जगह पर 700 नए टीआरबीकर्मियों की भर्ती की जाएगी. 3 साल के लिए अनुबंध पर भर्ती की जाएगी. नवनियुक्त टीआरबी जवानों को शांतिपूर्ण व्यवहार, सॉफ्ट स्किल्स, सिग्नल सहित जानकारी के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा.

3 साल के अनुबंध के आधार पर 700 टीआरबी कर्मियों की भर्ती

अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस ने भ्रष्टाचार और कदाचार पर लगाम लगाने के लिए बड़ा फैसला लिया है. कदाचार और भ्रष्टाचार में शामिल 700 टीआरबी कर्मियों का सफाया कर दिया गया है. इन टीआरबी जवानों के खिलाफ कदाचार और भ्रटाचार की शिकायतें मिली थी. जिसके चलते इन्हें तत्काल हटा दिया गया है. जिसके बाद निकट भविष्य में 3 साल के अनुबंध के आधार पर 700 टीआरबी कर्मियों की भर्ती की जाएगी.

हाल ही में लोगों ने टीआरबी जवानों के खिलाफ काफी शिकायतें की थीं. कई टीआरबी जवान अवैध वसूल भी कर रहे थे. इस तरीके की शिकायतें सामने आने के बाद उच्चाधिकारियों ने यह बड़ा फैसला लिया है.

कोरोना की वजह से लागू सभी प्रतिबंधों को गुजरात सरकार हटाने की कर रही तैयारी