Gujarat Exclusive > गुजरात > 2006 कालूपुर ब्लास्ट मामला: आरोपी को देश के बाहर भेजने में मदद करने वाले की जमानत याचिका खारिज

2006 कालूपुर ब्लास्ट मामला: आरोपी को देश के बाहर भेजने में मदद करने वाले की जमानत याचिका खारिज

0
202

अहमदाबाद: गुजरात के अहमदाबाद में 2006 में कालूपुर रेलवे स्टेशन पर बम धमाका हुआ था. इस मामले के आरोपी को देश के बाहर भेजने में मदद करने वाले आरोपी की जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दी. Ahmedabad blast accused bail rejected

14 सालों से चल रहा था आरोपी फरार

अदालत ने आरोपी की जमानत को खारिज करते हुए कहा कि मामले में आरोप पत्र दाखिल करने से परिस्थितियों में बदलाव नहीं हुआ.

लेकिन आरोपी पर गंभीर आरोप हैं, इसलिए उसे फिलहाल जमानत नहीं दी जा सकती. उल्लेखनीय है कि बम विस्फोट की घटना के 14 सालों बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया था.

मामले में शामिल एक आरोपी हो चुका है बरी Ahmedabad blast accused bail rejected

याचिकाकर्ता के वकील ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा कि आरोपी पर बम ब्लास्ट के दो आरोपियों को बांग्लादेश की सीमा पार कराने के लिए मदद का आरोप लगाया गया है.

हालांकि दो आरोपियों में से एक को अदालत ने बरी कर दिया है जबकि अन्य आरोपी का मामला लंबित है. आवेदक का वर्ष 2018 में पासपोर्ट जारी किया गया है.

इसके लिए पुलिस द्वारा की गई जांच में भी आरोपी के खिलाफ कोई मामला नहीं पाया गया है. Ahmedabad blast accused bail rejected

आरोपी के खिलाफ नहीं है कोई आपराधिक मामला दर्ज Ahmedabad blast accused bail rejected

इसके अलावा आरोपी के वकील ने आगे दलील देते हुए कहा कि वर्ष 2012 में प्राथमिक शिक्षा विभाग, पश्चिम बंगाल द्वारा टीएटी परीक्षा के लिए आरोपी का एडमिट कार्ड भी जारी किया गया था.

आरोपी आधार कार्ड और चुनाव कार्ड में दर्ज पश्चिम बंगाल के बशीरहाट में अपने परिवार के साथ रहता है. Ahmedabad blast accused bail rejected

सरकारी वकील ने जमानत याचिका का किया विरोध

इस मामले में कोर्ट में पेश हुए सहायक सरकारी वकील ने आरोपी की जमानत याचिका को खारिज करने की मांग करते हुए दलील देते हुए कहा कि आरोपी पिछले 14 वर्षों से फरार था और पश्चिम बंगाल के बशीरहाट का निवासी है. Ahmedabad blast accused bail rejected

अगर आरोपी को जमानत दी जाती है तो वह फरार हो सकता है. इतना ही नहीं वह ट्रायल के दौरान भी उपस्थित नहीं रहेगा इसलिए आरोपी की जमानत को खारिज कर दिया जाना चाहिए.

गौरतलब है कि आरोपी अब्दुल रज्जाक गाज़ी को गुजरात एटीएस की टीम ने 24 अगस्त 2020 को पश्चिम बंगाल के बशीरहाट से गिरफ्तार किया था. Ahmedabad blast accused bail rejected

19 फरवरी 2006 में अहमदाबाद के कालपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 2 और 3 के पास एक विस्फोट हुआ था. इस विस्फोट में करीब 10 लोग घायल हो गए थे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पहले कांग्रेस के वोट बैंक में और अब AMC दफ्तर में AIMIM ने लगाई सेंध