Gujarat Exclusive > गुजरात एक्सक्लूसिव > अहमदाबाद कलेक्टर डॉक्टर विक्रांत पांडे की बदली, नये कलेक्टर बने के के निराला

अहमदाबाद कलेक्टर डॉक्टर विक्रांत पांडे की बदली, नये कलेक्टर बने के के निराला

0
387

अहमदाबाद कलेक्टर विक्रांत पांडे को केन्द्र में प्रतिनियुक्ती के साथ इंटर स्टेट काउंसिल सेक्रेटरी यट में डायरेक्टर की जिम्मेदारी सौंपी गई है. जबकि अहमदाबाद के नये कलेक्टर की जिम्मेदारी के निराला को दी गई है. के के निराला आंणद जिला विकास अधिकारी, सुरेन्द्रनगर कलेक्टर, खेड़ा जिला कलेक्टर के तौर पर अपनी सेवा दे चुके हैं.

2005 बेंच के आईएएस अधिकारी डॉक्टर विक्रांत पांडे को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए केन्द्र में बुलाने का फैसला किया गया है. मिल रही जानकारी के अनुसार केन्द्र से गुजरात के नये मुख्य सचिव के तौर पर अनिल मुकीम को बुलाया गया है. ऐसे में गुजरात के एक अधिकारी को प्रतिनियुक्ती पर केन्द्र में बुलाया गया है. गृहमंत्रालय के अंडर में चलने वाली इंटर स्टेट काउंसिल सेक्रेटरी यट का डायरेक्टर बनाया गया है. जिसका कार्यकाल पांच साल का होगा. केन्द्र के डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनल एंड ट्रेनिंग विभाग द्वार जारी एक आर्डर में विक्रांत पांडे को आने वाले तीन सप्ताह में नई जगह पर पेश होने का आदेश दिया गया है. विक्रांत पांडे इससे पहले राजकोट के कलेक्टर थे वहां से उनको मुख्यमंत्री विजय रुपानी अहमदाबाद लेकर आए थे.

सूत्रों से मिलने वाली जानकारी के अनुसार अहमदाबाद कलेक्टर विक्रांत पांडे बोडकदेव में करोड़ो रुपया की जमीन को गैर कानूनी तरीके से (एन ए) किया था जिसके बाद खुद कलेक्टर महेसूल पंच में अपील कर स्टे भी लाये थे. अहमदाबाद के सिंधु भवन रोड पर मौजूद हनुमान दर्शन सोसायटी की 5,403 चोरस मीटर जमीन को रातों रात (एन ए) कर दिया गया था जबकि गुजरात सरकार ने इस जमीन को (एन ए) नहीं देने का आदेश दिया था. बावजूद इसके कलेक्टर विक्रांत पांडे ने इस विवादित जमीन को (एन ए) दे दिया था जिसके बाद बीजेपी के नेताओं में नाराजगी देखने को मिल रही थी. ऐसी भी जानकारी मिल रही है कि बीजेपी के नेताओं ने इस मामले को लेकर सीएम रुपानी से शिकायत की थी जिसके बाद ही डॉक्टर विक्रांत पांडे का ट्रांसफर किया गया है.

अहमदाबाद के हाई प्रोफाइल भिखारियों के नेटवर्क का ताल्लुकात DPS-आश्रम के साथ तो नहीं?