Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद: घने कोहरे की वजह से विजिबिलिटी में गिरावट, बेमौसम बारिश की भी संभावना

अहमदाबाद: घने कोहरे की वजह से विजिबिलिटी में गिरावट, बेमौसम बारिश की भी संभावना

0
100

अहमदाबाद: अहमदाबाद और उसके आसपास के इलाकों में शुक्रवार सुबह घना कोहरा छाया रहा. कोहरा की वजह से विजिबिलिटी में भारी गिरावट दर्ज की गई है. हालांकि 8 बजे के बाद धीरे-धीरे कोहरा कम हुआ और वातावरण साफ हो गया. कोहरे की वजह से सूर्य की किरण जमीन तक नहीं पहुंच पा रही थी. अहमदाबाद, मध्य गुजरात, दक्षिण गुजरात में इसी तरीके का वातावरण देखा गया.

19 फरवरी के बाद ठंड कम हो सकती है

देश के उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में भारी बर्फबारी और ओलावृष्टि की संभावना है. इसके अलावा घने कोहरे की संभावना है. इसके अलावा राज्य के कुछ हिस्सों में बेमौसम बारिश के बाद शीत लहर लौटने की संभावना है. वहीं 29 जनवरी को मौसम में बदलाव आ सकता है और कड़ाके की ठंड बढ़ सकती है. हालांकि 19 फरवरी के बाद ठंड कम हो सकती है.

राज्य के कुछ हिस्सों में भीषण शीत लहर की वापसी की संभावना

अंबालाल पटेल के अनुसार, ग्रहों और अन्य कारकों के आधार पर देश के उत्तरी पर्वतीय इलाकों में अभी भी भारी बर्फबारी और ओलावृष्टि के अलावा बेमौसम बारिश की उम्मीद है. जिसका असर गुजरात में भी दिखाई देगा. गैर-मौसमी बारिश के बाद 23 जनवरी तक राज्य के कुछ हिस्सों में भीषण शीत लहर लौटने की संभावना है. इसके अलावा, उत्तरी गुजरात के कुछ हिस्सों में न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है. मेहसाणा, सिद्धपुर, पाटन, बनासकांठा, राधनपुर, पालनपुर, साबरकांठा के कुछ हिस्सों और पंचमहल के कुछ इलाकों में कड़ाके की ठंड पड़ सकती है.

राज्य के कुछ हिस्सों में कोहरे की संभावना

अहमदाबाद और गांधीनगर में भी न्यूनतम तापमान आठ डिग्री से नीचे जाने की संभावना है. दक्षिण गुजरात के सूरत, वलसाड जैसे हिस्सों में भी ठंड पड़ेगी. उत्तरी सौराष्ट्र और कच्छ के कुछ हिस्सों में भी कड़ाके की ठंड पड़ने की संभावना है. माह के अंत तक राज्य में हर सुबह घना कोहरा रहने की संभावना है.

कोरोना के शिकंजा में अहमदाबाद पुलिस, 4 PSI-2PI समेत कई अन्य संक्रमित