Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद: पुलिस हिरासत में कैंसर के मरीज की मौत

अहमदाबाद: पुलिस हिरासत में कैंसर के मरीज की मौत

0
310

जुआ खेलते हुए पकड़े गए एक कैंसर रोगी की अहमदाबाद (Ahmedabad) के वेजलपुर पुलिस थाने की हिरासत में हुई मौत ने रविवार को पुलिस प्रशासन में खलबली मचा दी. अहमदाबाद पुलिस (Ahmedabad Police)  ने मौत के कारण का पता लगाने के लिए मृतक के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है.

दरअसल राज्य निगरानी सेल ने शनिवार को अहमदाबाद (Ahmedabad) के वेजलपुर पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले इलाके में छापा मारा था और अब्दुल कादिर के खिलाफ मामला दर्ज किया. अब्दुल आठ अन्य लोगों के साथ जुआ खेल रहा था. उन सभी को जुआ खेलने के कारण गिरफ्तार किया गया था और रविवार को लगभग 2 बजे वेजलपुर पुलिस स्टेशन को सौंप दिया गया था. पुलिस की शुरुआती जांच में पता लगा है कि अब्दुल कादिर का लंबे समय से कैंसर का इलाज चल रहा था.

क्या है पूरा मामला

राज्य निगरानी सेल के अधिकारियों ने अहमदाबाद (Ahmedabad) के वेजलपुर इलाके में सोनल सिनेमा के पास मोहम्मद शोएब सोसाइटी में छापा मारा. छापेमारी में अधिकारियों ने आठ जुआरियों को गिरफ्तार किया और उनके पास से 1.93 लाख रुपये नकद भी जब्त किए.

यह भी पढ़ें: गुजरात में नहीं थम रहा कोरोना संक्रमण, अहमदाबाद की स्थिति बिगड़ी

एएसआई जयेंद्रसिंह लालसिंह, कांस्टेबल संजय विठोबा वाली राज्य निगरानी सेल की टीम ने अब्दुल कादिर को जुआ खेलने के आरोप में गिरफ्तार किया था. इसके अलावा तरुण पारिख, अशोक सोनी, कमलेश सोनी, मयूर सोनी, मुर्तजा कुरैशी, चंद्रकांत मिस्त्री और मोहम्मदखान अहमद पठान को पुलिस ने गिरफ्तार हिरासत में लिया.

इसके अलावा जुआ खेलने वालों को ऑटोरिक्शा में लाने वाले राजेश वानिया और मकान मालिक अकबरिया मंसूरमियां शेख के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया.

पुलिस ने क्या कहा?

जोन 7 के डीसीपी प्रेमसुख दालू ने कहा कि राज्य निगरानी सेल ने शनिवार को जुए के अड्डे पर छापा मारा और आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया.

उन्होंने बताया कि आरोपियों की रविवार को 2 बजे वेजलपुर पुलिस को सौंप दिया गया. उनमें से एक अब्दुल कादिर का आज सुबह पुलिस हिरासत में मौत हो गई. अब्दुल कादिर को कैंसर था. वह लंबे समय से इलाज करा रहा था.

डीसीपी ने कहा, ‘चूंकि उसकी मौत पुलिस हिरासत में हुई है, इसलिए हम इस मामले की जांच नियमानुसार करेंगे. अब्दुल कादिर के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद मौत के सही कारण का पता लगने की संभावना है.’

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें