Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद में कोरोना के बाद नई बीमारी का दस्तक, सिविल में 44 मामले, 9 की मौत

अहमदाबाद में कोरोना के बाद नई बीमारी का दस्तक, सिविल में 44 मामले, 9 की मौत

0
678

अहमदबाद: गुजरात में कोरोना महामारी की दूसरी लहर धीरे-धीरे सुस्त पड़ रही है. लेकिन इस बीच एक नई बीमारी ने दस्तक दे दिया है. Ahmedabad new disease

कोरोना से उबरने वाले और डायबिटीज से पीड़ित मरीज़ म्यूकोरमाइकोसिस नामक बीमारी से पीड़ित हो रहे हैं.

इस बीमारी के इलाज के लिए अहमदाबाद सिविल अस्पताल में 44 मरीज़ों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है जिनमें से 9 मरीज़ अपनी जान गंवा चुके हैं.

केंद्र के अलर्ट को गुजरात सरकार ने किया नजरअंदाज

कोरोना के बाद होने वाली इस इस बीमारी को लेकर केंद्र सरकार ने अलर्ट जारी किया था, हालांकि, गुजरात सरकार ने अलर्ट को जनता से गुप्त रखा था. जिसके कारण विकासशील गुजरात में मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ी.

इस बीमारी में एक प्रकार का कवक शामिल होता है जो नाक के हड्डियों को खा जाता है. यह बीमारी आंखों और मस्तिष्क को भी प्रभावित करती है और अंधापन की ओर ले जाती है.

कैंसर की तुलना में यह बीमारी तेजी से फैल रही है. Ahmedabad new disease

कोरोना से उबरने वाले लोग नई बीमारी का बन रहे हैं शिकार

जो मरीज कोरोना वायरस से उबर चुके हैं और मधुमेह या किसी अन्य बीमारी से पीड़ित हैं. ऐसे लोगों को और ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है. Ahmedabad new disease

माना जाता है कि एंटीबॉडीज तैयार कर लिया गया इसके भरोसे रहने की जरूरत नहीं. क्योंकि अब कोरोना मरीजे म्यूकोरमाइकोसिस नामक बीमारी से पीड़ित हो रहे हैं.

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने जारी किया था अलर्ट, गुजरात सरकार का भांडा फूटा Ahmedabad new disease

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा 15 दिसंबर की रात को एक ट्वीट कर इस बीमारी को लेकर अलर्ट जारी किया था. Ahmedabad new disease

उन्होंने ट्वीट कर लिखा था “विशेषज्ञों के मुताबिक कोविड-19 से ठीक हुये लोगों में म्यूकोरमाइकोसिस बीमारी का खतरा बढ़ा है जिससे कई लोगों की मौत भी हुई है.

इस बीमारी में दिमाग समेत शरीर के कई अंगों के खराब होने का खतरा है. मुंबई और अहमदाबाद में इस बीमारी का अलर्ट जारी किया गया है.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अमरेली: जाफराबाद समुद्र से पकड़ी गई 300 किलो वजनी महाकाय मछली