Gujarat Exclusive > गुजरात > यह कैसा विरोध: अहमदाबाद में NSUI के कार्यकर्ता बस की चाबी लेकर हुए फरार

यह कैसा विरोध: अहमदाबाद में NSUI के कार्यकर्ता बस की चाबी लेकर हुए फरार

0
261

अहमदाबाद: किसानों ने तीनों नए कृषि बिलों को लेकर भारत में बंद का ऐलान किया है. भारत बंद का गुजरात में मिला-जुला असर दिखाई दे रहा है.

अहमदाबाद में भी कांग्रेस की युवा शाखा एनएसयूआई द्वारा कई जगहों पर बंद को सफल बनाने के लिए रास्ते पर उतरे. Ahmedabad NSUI Worker

कल ही मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने साफ कर दिया था कि गुजरात सरकार किसानों के भारत बंद का समर्थन नहीं कर रहा है.

ऐसे में अगर कोई जबरदस्ती दुकानों और अन्य प्रतिष्ठानों को बंद करने की कोशिश करता है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

बंद को सफल बनाने के लिए रास्तों पर उतरे एनएसयूआई के कार्यकर्ता

अहमदाबाद के यूनिवर्सिटी इलाके में एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने टायर में आग लगा दी थी. जिसकी वजह से ट्रैफिक जाम हो गया था.

इतना ही नहीं एनएसयूआई के कार्यकर्ता 3 बीआरटीएस बसों की चाबी लेकर भी फरार हो गए थे. Ahmedabad NSUI Worker

बंद को सफल बनाने के लिए रास्ते पर उतरे कांग्रेसी कार्यकर्ता और पुलिस के साथ धक्कामुक्की में एक पुलिसकर्मी भी घायल हो गया.

एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने सीजी रोड इलाके में भी दुकानें बंद कराने की कोशिश की.

हिरासत में लिए गए एनएसयूआई के कार्यकर्ता

एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक भाविक सोलंकी और प्रदर्शन कर रहे अन्य कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. Ahmedabad NSUI Worker

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कल कहा था कि गुजरात में भारत बंद को लेकर धारा 144 लागू कर दी गई है.

इतना ही नहीं उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा था कि मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि आप अपना 2019 का मैनिफेस्टो खोलकर देख लीजिए जिसमें आपने बताया था कि अगर आपकी पार्टी सत्ता में आएगी तो वो APMC एक्ट को समाप्त करेगी. Ahmedabad NSUI Worker

आज जब हमारी सरकार ये कर रही है तो राहुल गांधी किसानों को भड़काने के लिए क्यों सबसे आगे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात में नहीं दिखा बंद का असर, CM ने कहा- किसानों को किया जा रहा गुमराह