Gujarat Exclusive > गुजरात > IMPACT: AMC द्वारा निजी कोविड नामित अस्पतालों के 20 फीसदी बेड मरीजों के लिए आरक्षित

IMPACT: AMC द्वारा निजी कोविड नामित अस्पतालों के 20 फीसदी बेड मरीजों के लिए आरक्षित

0
237

लक्ष्मी पटेल, अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने हाहाकर मचा रखा है. बीते कुछ दिनों से 6 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज हो रहे हैं.

दैनिक मामलों में सबसे ज्यादा अहमदाबाद में सकारात्मक मामले सामने आ रहे हैं. मरीजों की संख्या में भारी वृद्धि की वजह से अस्पतालों की संख्या भी बढ़ा दी गई है.

इस बीच नगर निगम ने बड़ा फैसला लिया है. निजी कोविड अस्पताल में एएमसी कोटा के 20 प्रतिशत बेड को रिजर्व रखा जाएगा. Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

गुजरात एक्सक्लूसिव की खबर का असर

नगर निगम के 20 फीसदी आरक्षित बेड पर इलाज करवाने वाले गरीब और मध्यम वर्ग मरीज 108 पर कॉल करके इस अस्पताल में भर्ती हो सकते हैं.

कोरोना के बढ़ते आतंक की वजह से शहर के 147 प्राइवेट अस्पतालों को कोविड नामित किया गया है. गुजरात एक्सक्लूसिव की एक रिपोर्ट के बाद अहमदाबाद नगर निगम ने यह अहम निर्णय लिया है.

गुजरात एक्सक्लूसिव ने “अहमदाबाद में कोरोना तांडव, AMC निजी अस्पतालों में मरीजों की लागत वहन करने के लिए तैयार क्यों नहीं” शीर्षक से एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी.

जिसके बाद अहमदाबाद नगर निगम शहरवासियों के लिए यह घोषणा की है. Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

अहमदाबाद में कोरोना तांडव के बावजूद एएमसी निजी अस्पतालों में मरीज का इलाज खर्च उठाने को तैयार नहीं Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

अहमदाबाद में कोरोनो वायरस मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है. कल असारवा में मौजूद कोरोना का सबसे बड़ा अस्पताल हाउसफुल हो गया था.

वहीं आज सोला सिविल का 250 ऑक्सीजन और 50 वेंटिलेटर बेड फुल हो गया है. अहमदाबाद की स्थिति कोरोना की वजह से हर दिन खराब होती जा रही है.

अहमदाबाद की ज्यादातर अस्पताल हाउसफुल Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के मद्देनजर ज्यादातर अस्पताल हाउसफुल हो गए हैं. अहमदाबाद के सिविल अस्पताल परिसर में एम्बुलेंस लाइनें लग गई हैं.

जिसमें मरीजों का इलाज किया जा रहा है. मरीज बेड खाली होने का इंतजार कर रहे हैं. अहमदाबाद के सबसे बड़े कोविड अस्पताल में 1200 बेड हाउसफुल हो चुका है.

जिससे मरीजों को बाहर ही रखा जा रहा है. इसीलिए अब मरीजों को एम्बुलेंस में ही ऑक्सीजन दिया जा रहा है. Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

धूल खा रहे आइसोलेशन कोच Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

राजकोट ज़ोन में ट्रेनों के 20 नॉन एसी कोचों को आइसोलेशन वार्ड में बदल दिया गया है. इसके लिए कोच के प्रत्येक डिब्बे को मध्य बर्थ को हटाकर अस्पताल के निजी कमरे की तरह बनाया गया है.

डॉक्टरों के कहने के मुताबिक कोचों में जरूरी बदलाव किए गए हैं. कोच के एक शौचालयों को बाथरूम में बदल दिया गया है.

संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए प्लास्टिक के पर्दे लगाए गए हैं. Ahmedabad Private Hospital 20 percent beds reserved

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

IMA अध्यक्ष का सुझाव 14 दिनों का लॉकडाउन, गुजरात में बेकाबू कोरोना की चैन तोड़ने का एकमात्र विकल्प