Gujarat Exclusive > यूथ > सुशांत केस: AIIMS के 4 डॉक्टरों की फॉरेंसिक टीम मुंबई पहुंची

सुशांत केस: AIIMS के 4 डॉक्टरों की फॉरेंसिक टीम मुंबई पहुंची

0
226

बॉलीवुड के दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत केस में अब दिल्ली के एम्स अस्पताल (AIIMS) के डॉक्टरों की टीम एक अहम भूमिका निभाना जा रही है. एम्स के 4 डॉक्टरों की टीम सुशांत की ऑटोप्सी रिपोर्ट की जांच करेगी. यह टीम मुंबई पहुंच गई है.
जानकारी के अनुसार डॉक्टरों की टीम का नेतृत्व फॉरेंसिक मेडिसिन के प्रमुख डॉक्टर सुधीर गुप्ता करेंगे.
डॉक्टर सुधीर का कहना है कि उनका काम हत्या के एंगल से मौत के सभी संभावित तरीकों की जांच करना है.
ये रिपोर्ट आने के बाद साफ हो जाएगा कि सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट कितनी सही थी.

यह भी पढ़ें: जनता तय करेगी कि उसे बड़ा-छोटा भाई चाहिए या त्रिमूर्ति: सिंधिया

एम्स फोरेंसिक विभाग के प्रमुख सुधीर गुप्ता ने कूपर अस्पताल द्वारा ऑटोप्सी रिपोर्ट में मौत के समय का जिक्र नहीं करने पर भी सवाल उठाए, जहां 15 जून को सुशांत का पोस्टमार्टम किया गया था.
अब एम्स की टीम मुंबई में घटना स्थल का निरीक्षण करेगी.

सुशांत केस में उठ रहे कई सवाल

सुशांत के पिता के वकील का दावा है कि सुशांत के गले पर मिले निशान हैंगिंग के कम दिखते हैं बल्कि गला घोंटकर मारने जैसा ज्यादा दिखते हैं.
वकील ने ये भी कहा है कि सुशांत की एक आंख दूसरी के मुकाबले ज्यादा खुली हुई थी.
इन सब बातों का जिक्र पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं किया गया है.
सुशांत केस में एम्स फॉरेंसिक टीम इन बातों को लेकर भी छानबीन कर सकती है.

सुशांत का पोस्टमार्टम आधी रात को मुंबई के कूपर अस्पताल में हुआ था. अब पता चला है कि कूपर अस्पताल ने मुंबई पुलिस को एक सप्लीमेंट्री पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी दी थी, जिसमें सुशांत की मौत का संभावित वक्त बता दिया गया था.

सुशांत की बहन से ईडी की पूछताछ

वहीं दूसरी ओर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अभिनेता सुशांत केस से जुड़े धनशोधन के एक मामले की जांच के सिलसिले में राजपूत की बड़ी बहन प्रियंका सिंह से भी पूछताछ की और उनका बयान दर्ज किया.
अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत बयान दर्ज किया गया.
इससे पहले सुशांत केस में रिया चक्रवर्ती से भी ईडी पूछताछ कर चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें