Gujarat Exclusive > गुजरात एक्सक्लूसिव > AIMIM का पूरा नाम ना बोल पाने वाले काबलीवाला कैसे संभालेंगे गुजरात?

AIMIM का पूरा नाम ना बोल पाने वाले काबलीवाला कैसे संभालेंगे गुजरात?

0
825

अभिषेक पाण्डेय, अहमदाबाद: गुजरात के मुस्लिमों को राजनीतिक विकल्प का दावा कर गुजरात में आने वाली असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ए आई एम आई एम जिसके सहारे गुजरात में नैया पार लगाने की कोशिश कर रही है. AIMIM Gujarat

उसके नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष साबिर काबलीवाला अपने संगति और सहयोगियों के चलते अब चौतरफा आलोचनाओं का शिकार हो रहे हैं. AIMIM Gujarat

अहमदाबाद के जमालपुर इलाके के कांग्रेसी विधायक इमरान खेड़ावाला ने साबिर काबलीवाला को चुनौती देते हुए कल एक ट्वीट किया, “वह अगर जमालपुर से अहमदाबाद म्युनिसिपल कारपोरेशन का चुनाव लड़ते हैं तो उनके खिलाफ चुनाव लड़ कर उन को हराने की ताकत रखता हूं, ओवैसी मुस्लिम वोटों का ध्रुवीकरण कर भाजपा को फायदा पहुंचाने की कोशिश कर रहे हैं.”

शाहपुर इलाके के कांग्रेसी एमएलए गयासुद्दीन शेख ने कहा, “साबिर काबलीवाला जब जमालपुर से कांग्रेस के विधायक थे अपने 5 साल के शासन काल में 5 मिनट भी गुजरात विधानसभा में बोल नहीं सकते थे ऐसे लोगों को ए आई एम आई एम गुजरात का अध्यक्ष बनाकर अपना बेड़ा खुद गर्क कर रही है. AIMIM Gujarat

साबिर काबलीवाला जिस पार्टी के अध्यक्ष हैं उनको उस पार्टी का पूरा नाम तक लेना नहीं आता.” AIMIM Gujarat

गुजरात में एआईएमआईएम की एंट्री के साथ माना जा रहा था कि बीते काफी सालों से हाशिए पर ढकेल दिए गए मुस्लिमों को अब राजनीतिक विकल्प मिलेगा लेकिन जिस तरीके से काबलीवाला के सरपरस्ती में असामाजिक तत्वों का जमावड़ा पार्टी में देखने को मिल रहा है उससे सभ्य और समझदार मुस्लिम AIMIM से दूरी बना रहे हैं. AIMIM Gujarat

आगामी दिनों में होने वाले स्थानीय निकाय चुनाव में ओवैसी की पार्टी किस तरीके से प्रदर्शन करेगी यह देखना दिलचस्प होगा. AIMIM Gujarat

क्या गुजरात के मुस्लिम लतीफ के वारिसदारों और शाह आलम, जमालपुर के असमाजिक तत्वों की सरपरस्ती में AIMIM को कबूल कर पाएंगे(?), यह भी देखना दिलचस्प होगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

AIMIM गुजरात: मुस्लिमों का प्रतिनिधित्व या माफियाओं का अड्डा?