Gujarat Exclusive > देश-विदेश > डाउनलोड के तमाम रिकॉर्ड धराशायी, आरोग्य सेतु एप बना नंबर वन

डाउनलोड के तमाम रिकॉर्ड धराशायी, आरोग्य सेतु एप बना नंबर वन

0
454

कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों को पता लगाने और लोगों तक कोरोना संबंधी जानकारी पहुंचाने के लिए भारत सरकार द्वारा तैयार कराए गए आरोग्य सेतु एप लोगों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील पर लोग इसे डाउनलोड कर रहे हैं. 8 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच डाउनलोड किए गए एप का आंकड़ा देखे तो आरोग्य सेतु एप को करीब 5.5 मिलियन लोगों ने डाउनलोड किया. दूसरे नंबर पर जूम एप रहा. इसे 4.2 मिलियन लोगों ने डाउनलोड किया. इस दौरान टिकटॉक को 2.6 तो वॉट्सएप को महज 1.8 मिलियन लोगों ने ही डाउनलोड किया.

सबसे तेज 5 करोड़ डाउनलोड

हाल ही में नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने बताया कि ‘आरोग्य सेतु’ एप सबसे तेजी से पांच करोड़ बार डाउनलोड किया जाने वाला दुनिया का पहला एप बन गया है. उन्होंने आंकड़े बताते हुए कहा था कि पांच करोड़ लोगों तक अपनी पहुंच बनाने में टेलीफोन को 75 साल का समय लगा था, जबकि रेडियो को इतने लोगों तक पहुंचने में 38 साल का समय लग गया. उन्होंने कहा कि टेलीविजन को पांच करोड़ लोगों तक पहुंचने में 13 साल, इंटरनेट को चार साल, फेसबुक को 19 महीने और पोकेमोन गो को 19 दिन लगे थे.

चीन ने भी रखी थी लोगों पर नजर

ऐसा नहीं है कि सिर्फ भारत ही एप से लोगों पर नजर रख रहा है. चीन में भी कोरोना वायरस की जानकारी के लिए एक एप तैयार किया था. चीन ने भी कोरोना वायरस के मामले की निगरानी के लिए एक खास एप तैयार किया. इसमें लॉकडाउन खोलने के बाद भी लोगों को कहीं आने जाने के लिए एक क्यू आर कोड स्कैन किया जाता था. इसमें ग्रीन कलर मिलने के बाद ही लोगों को बाहर आने जाने की इजाजत दी जाती थी.

पश्चिम बंगाल राज्यपाल का बड़ा आरोप, संकट के समय राजनीति कर रही ममता सरकार