Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद बैंक में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, AMC ने किया सील

अहमदाबाद बैंक में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, AMC ने किया सील

0
870

अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. अहमदाबाद में जहां एक तरफ कोरोना के नए मामलों की संख्या में कमी दर्ज की जा रही है. लेकिन राज्य के दूसरे जिलों में हर दिन नए मामलों की संख्या में वृद्धि दर्ज की जा रही है. इस बीच केंद्र और राज्य सरकार के द्वार जारी दिशानिर्देशों का पालन नहीं करने वाले लोगों को सजा दी जा रही है. अहमदाबाद के एक एसबीआई ब्रांच में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर ब्रांच को सील कर दिया गया.

राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है. जहां एक तरफ अहमदाबाद में कोरोना के मामले घट रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ सूरत में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. कोरोना पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार ने सूरत के लोगों से अपील की है कि बिना काम के घर से ना निकले. कोरोना पर काबू पाने के लिए लागू की गई सरकारी दिशा-निर्देश का पालन नहीं करने के मामले को लेकर अहमदाबाद के मेघाणीनगर इलाके में मौजूद भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) शाखा को नगर निगम की स्वास्थ्य विभाग ने सील कर दिया है.

अहमदाबाद म्युनिसिपल कार्पोरेशन की टीम लगातार पूरे शहर का दौरा कर रही है, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले लोगों से जुर्माना वसूला जा रहा है. कार्पोरेशन की टीम शहर के अलग-अलग हिस्सों में जहां लोग बड़ी संख्या में आते हैं वहां पर नजर बनाए हुए है.

गुजरात में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार अब देश के दूसरे सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों की तरह होती जा रही है. रोजाना होने वाले मरने वालों के आंकड़े धीरे-धीरे नीचे जा रहे हैं लेकिन प्रतिदिन आने वाले नए मामलों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. बीते 24 घंटे में गुजरात में कोरोना के रिकॉर्ड 861 नए मामले सामने आए हैं. यह एक दिन में दर्ज होने वाले कोरोना के अब तक की सर्वाधिक संख्या है. वहीं बीते 24 घंटे में राज्य में 15 लोगों की मौत हुई है जिससे मरने वालों की कुल संख्या 2000 को पार कर गई.

गुजरात में कोरोना के मामलों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही है. वहीं 15 लोगों की मौत के साथ राज्य में मरने वालों की संख्या 2010 हो गई है. राज्य में अब अस्पताल से छुट्टी मिल रही है जिससे सक्रिय मरीजों की संख्या कम हो रही है. अब तक गुजरात में कुल मरीजों में से 27,742 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया जा चुका है.

कोरोना की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद सूरत में हीरा व्यापारी ने की आत्महत्या