Gujarat Exclusive > गुजरात > कोरोना को लेकर AMC का विवादित ट्वीट, मीडिया जगत नाराज

कोरोना को लेकर AMC का विवादित ट्वीट, मीडिया जगत नाराज

0
567
  • AMC Tweet News: अहमदाबाद में बढ़ते कहर के बीच नगर निगम का विवादित ट्वीट
  • समाचर पर विश्वास नहीं करने की बात पर मीडिया जगत नाराज
  • बिना अधिकारियों के रिएक्शन वाली न्यूज को बताया गलत

अहमदाबाद: कोरोना मामलों की बढ़ती संख्या में उलझे अहमदाबाद नगर निगम ने एक विवादित ट्वीट किया है. इस ट्वीट में कहा गया है कि बिना किसी कार्पोरेशन के अधिकारी के रिएक्शन वाली वह तमाम खबरें गलत हैं.

नगर निगम के इस विवादित ट्वीट से मीडिया जगत नाराज हो गया है.

लगातार की जाने वाली मांग के बावजूद मीडिया के सामने AMC का कोई भी अधिकारी कोरोना अपडेट नहीं दे रहा है.

कोरोना अपडेट की नहीं दी जा रही है मीडिया को जानकारी AMC Tweet News:

सच्चाई यह है कि मीडिया जगत से जुड़े लोग आज भी एएमसी द्वारा भेजे गए प्रेस नोट के आधार पर ही खबर बनाते है. ऐसे में मीडिया पर ही आरोप लगाने से यह मामला चर्चा का नया विषय बन गया है.

कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच नगर निगम ने एक ट्वीट किया है. जिसमें कहा गया है कि आधिकारिक उद्धरण को छोड़कर अन्य किसी भी कोरोना अपडेट की खबर पर विश्वास न करें.

यह भी पढ़ें: गुजरात पुलिस का स्पेशल ट्रैफिक ड्राइव, हेलमेट के साथ मास्क पहनना अनिवार्य

नगर निगम के मीडिया ग्रूप में मीडियाकर्मियों ने अपने नाराजगी का किया इजहार AMC Tweet News:

इस ट्वीट को अहमदाबाद नगर निगम की मेयर ने लाइक किया जिसके बाद मामला और भी बिगड़ गया. मीडियाकर्मियों ने अधिकारियों के व्हाट्सअप ग्रूप में अपने नाराजगी का इजहार किया.

एएमसी के अधिकारी-शासक चुप्पी साधने के साथ ही लंबे समय से मीडिया से दूरी बनाए हुए हैं. ट्वीट के तहत शहर में कोरोना के बढ़ते आतंक का जिम्मेदार मीडिया को बताया गया है.

अहमदाबाद में बढ़ते कोरोना को लेकर कोई भी अधिकारी प्रतिक्रिया देने को तैयार नहीं. AMC Tweet News: 

अक्सर मीडिया के साथ मधुर संबंध बनाए रखने वाली मेयर बिजल पटेल भी इन दिनों मीडिया से दूरी बनाए हुए हैं.

मधुर संबंध बनाने वाली एएमसी अब मीडिया से बन रखी है दूरी

अब अहमदाबाद में कोरोना का संक्रमण बढ़ रहा है. शहर की बिगड़ती स्थिति के लिए मीडिया को दोषी ठहराने का प्रयास किया गया है.

एएमसी के अधिकारी कोरोना को लेकर मीडिया के साथ किसी भी तरीके की जानकारी नहीं साझा कर रहे है.

अगर लोगों के स्वास्थ्य की एएमसी अधिकारी को इतनी चिंता है मीडिया के सामने सही जानकारी क्यों नहीं दी जा रही है और मीडिया से दूरी क्यों बनाई जा रही है.

इसके अलावा, मीडिया कर्मियों ने कहा, “एक ओर, मीडिया से सहयोग मांगा जा रहा है, दूसरी ओर, मीडिया पर ही आरोप लगाया जा रहा है.”

हालांकि मीडिया के प्रयासों और प्रतिनिधित्व के बावजूद, महापौर, नगर निगम आयुक्त और अन्य अधिकारी समन्वय के लिए किसी भी अधिकारी को नियुक्त नहीं करते हैं और स्वयं मीडिया से दूर भाग रहे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

वडोदरा: PSI राहुल परमार को ACB ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा