Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोराना से अमेरिका में हाल बेहाल : तीन हफ्तों में 1.68 करोड़ लोगों की गईं नौकरियां, न्यूयॉर्क में लग रहा लाशों का ढेर

कोराना से अमेरिका में हाल बेहाल : तीन हफ्तों में 1.68 करोड़ लोगों की गईं नौकरियां, न्यूयॉर्क में लग रहा लाशों का ढेर

0
247

एक तरफ अमेरिका में कोरोना के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे और दूसरी तरफ अर्थव्यवस्था की मार से उसके हाल बेहाल हैं. खबरों के मुताबिक, कोरोना फैलने के बाद अमेरिका में महज तीन हफ्तों में 1.68 करोड़ अमेरिकी नागरिकों की नौकरी चली गई है. इस बीच दुनिया भर के धार्मिक नेताओं ने गुरुवार को लोगों से गुड फ्राइडे और ईस्टर अपने-अपने घरों में ही मनाने की अपील की.

जॉन होपकिंस विश्वविद्यालय के मुताबिक दुनिया भर में मृतकों की कुल संख्या 95,000 को पार कर गई है जबकि संक्रमण के मामले लगभग 16 लाख पहुंच गये हैं. अमेरिकी सरकार द्वारा बृहस्पतिवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले हफ्ते 66 लाख कामगारों ने बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन दिया था. इसके पहले दो हफ्तों में एक करोड़ से अधिक लोगों ने भत्ते के लिये आवेदन किया था. इन आंकड़ों से यह जाहिर होता है कि हर 10 अमेरिकी में एक व्यक्ति ने भत्ते के लिए आवेदन किया है.

विश्व की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के 1948 से रिकॉर्ड रखना शुरू करने के बाद से पहली बार इतनी अधिक संख्या में नौकरियां गई हैं. साथ ही, अभी नौकरियों में और भी कटौती किए जाने की संभावना है. अप्रैल महीने में अमेरिकी बेरोजगारी दर 15 प्रतिशत पहुंच सकती है–इतनी अधिक दर 1929 की महामंदी के बाद नहीं देखी गई है.

संयुक्त राष्ट्र के श्रम संगठन ने कहा है कि दूसरी तिमाही में 19.5 करोड़ नौकरियां जाने की आशंका है. वहीं, वित्तीय मदद उपलब्ध कराने वाले संगठन ऑक्सफाम इंटरनेशनल ने अनुमान लगाया है कि दुनिया भर में आधे अरब लोग गरीबी के दुष्चक्र में जा सकते हैं.

लाशों का लगा ढेर

उधर अमेरिका के न्यूयॉर्क से डराने वाली तस्वीरें सामने आ रही हैं. यहां कोरोना वायरस के चलते हर दिन हालात बिगड़ते जा रहे हैं. एक दिन में औसतन 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है. ऐसे में यहां लाशों का ढेर लग गया है. लिहाजा इन्हें एक साथ कब्रों में दफनाया जा रहा है. सोशल मीडिया पर ये तस्वीरें लगातार वायरल हो रही हैं.

बीबीसी के मुताबिक हार्ट द्वीप पर ऐसे लोगों को दफनाया जा रहा है जिनका इस दुनिया कोई नहीं है. यहां से आ रही तस्वीरों में देखा जा सकता है कि बड़ी-बड़ी कब्र खोदी जा रही हैं. पहले यहां हफ्ते में सिर्फ एक दिन कब्र खोदी जाती थी. लेकिन अब यहां ये काम पांच दिन हो रहा है. ये काम पहले शहर की जेल में बंद कैदी करते थे. लेकिन अब लाशों की संख्या इतनी ज्यादा बढ़ गई है कि कब्र खोदने के लिए बाहर से कॉन्ट्रैक्टर बुलाए गए हैं.

अमेरिका ने एक बार फिर से चीन को दी धमकी, कहा- चाइना टेलीकॉम पर लगना चाहिए प्रतिबंध