Gujarat Exclusive > गुजरात > Breaking: गुजरात विधानसभा उपचुनाव से पहले गृह मंत्री अमित शाह का आगमन

Breaking: गुजरात विधानसभा उपचुनाव से पहले गृह मंत्री अमित शाह का आगमन

0
403
  • विधानसभा उपचुनाव से पहले अमित शाह पहुंचे अहमदाबाद
  • शहर में पहुंचने के साथ शुरू हुआ बैठकों का दौर
  • भाजपा 7 उम्मीदवारों के नाम का कर चुकी है ऐलान
  • कांग्रेस ने अब तक 5 उम्मीदवारों के नाम का कर चुकी है ऐलान

अहमदाबाद: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अहमदाबाद पहुच चुके हैं. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल ने फूलों का गुलदस्ता देकर उनका स्वागत किया.

मिल रही जानकारी के अनुसार वह उपचुनाव से पहले स्थानीय स्तर पर बैठक करेंगे. माना जा रहा है कि लिंबडी विधानसभा सीट पर भाजपा की फंसी पेंच को जल्द ही हल कर लिया जाएगा.

शाह के गुजरात आने के बाद जल्द ही आठवें उम्मीदवार के नाम का ऐलान पार्टी कर सकती है.

भाजपा 7 उम्मीदवारों के नाम का कर चुकी है ऐलान

गुजरात में तीन नवंबर को होने वाले आठ विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए भाजपा ने सात सीटों के लिए उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है. लेकिन भाजपा ने आठवीं सीट लिंबडी को लेकर अभी तक उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं किया. कांग्रेस से बगावत करने वाले 5 विधायकों को भाजपा ने बड़ा तोहफा दिया है.

कांग्रेस से बगावत करने वालों को मिला तोहफा

कच्छ की अबडासा सीट से प्रद्युम्न सिंह जाडेजा, करजण से अक्षर पटेल, धारी से जे.वी काकडिया, गढडा से आत्माराम परमार को टिकट मिला है. डांग से विजय पटेल, मोरबी सीट से ब्रिजेश मेरजा और कपराडा से जीतू चौधरी को चुनावी मैदान में उतारा गया है.

कांग्रेस ने पांच उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान

कांग्रेस ने आठ सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव के लिए पांच सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया है. धारी से सुरेश कोटडिया को टिकट दिया गया है.

अबडासा से शांतिलाल संघाणी को टिकट दिया गया है. जयंती पटेल को मोरबी से टिकट दिया गया है. मोहन सोलंकी को गढडा से चुनावी मैदान में उतारा गया है.

वहीं करजण विधानसभा सीट से किरीट सिंह जाडेजा को टिकट दिया गया है.

यह भी पढ़ें: बिलकिस बानो ने गुजरात सरकार पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश नहीं मानने का लगाया आरोप

कांग्रेस का एक तीर से दो निशाना

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी इस महीने के अंत में गुजरात का दौरा कर सकते हैं. राहुल गांधी केंद्र सरकार के द्वारा लागू किए गए कृषि बिल के विरोध में पंजाब की तर्ज पर गुजरात में भी ट्रैक्टर रैली आयोजित कर सकते हैं.

राहुल गांधी इससे पहले पंजाब और हरियाणा में केंद्र सरकार के कृषि बिल के विरोध में ट्रैक्टर रैली कर चुके हैं. गुजरात में वह 50 किलोमीटर लंबी ट्रैक्टर रैली आयोजित कर सकते हैं.

राहुल गांधी पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के वतन में कृषि बिल का विरोध कर उनका घेराव करेंगे. मिल रही जानकारी के अनुसार उनकी यह रैली आने वाले दिनों में आयोजित होने वाले उपचुनाव में भी असर डाल सकता है.

राहुल गांधी के दौरे से गुजरात कांग्रेस को मजबूती मिलने की उम्मीद जताई जा रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात में 14 से 16 अक्टूबर के बीच एक बार फिर बारिश की एंट्री: मौसम विभाग