Gujarat Exclusive > देश-विदेश > अमिताभ बच्चन को मिला दादा साहब फाल्के पुरस्कार, मजाकिया अंदाज में कहा पूरा हो चुका काम

अमिताभ बच्चन को मिला दादा साहब फाल्के पुरस्कार, मजाकिया अंदाज में कहा पूरा हो चुका काम

0
257

सदी के महानायक कहे जाने वाले दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन पिछले काफी दिनों से बीमार चल रहे हैं बावजूद इसके उन्होंने आज राष्ट्रपति भवन में होने वाले सम्मान समारोह में हिस्सा लिया इस दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद उन्हे दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया पुरस्कार पाने के बाद अमिताभ बच्चन ने कहा कि क्या दादा साहब फाल्के पुरस्कार मिलने का मतलब है कि अब काम पूरा हो चुका है.

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से दादा साहेब फाल्‍के पुरस्‍कार लेने के बाद अमिताभ बच्‍चन ने मजाकिया अंदाज भी दिखाया. उन्‍होंने धन्‍यवाद संबोधन के दौरान कहा ‘यह पुरस्‍कार देने की शुरुआत करीब 50 साल पहले हुई. मुझे बॉलीवुड इंडस्‍ट्री में काम करते हुए भी करीब 50 साल हो गए हैं. ऐसे में यह पुरस्‍कार की घोषणा के समय मेरे मन में यह बात आई कि क्‍या यह पुरस्‍कार देकर मुझे यह भी संकेत देना है कि भाई बस कर अब बहुत काम हो गया.’

 

1954 से राष्ट्रपति ही देते आए पुरस्कार

सिनेमा में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए भारत में दिए जाने वाले सबसे बड़े सम्मान यानी राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार पहली बार 1954 में दिए जाने शुरू हुए। तब से परंपरा यही रही कि ये पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति एक नियत दिन पर दिल्ली में सभी विजेताओं को वितरित करते हैं। सभी विजेताओं को पुरस्कार वितरण के एक दिन पहले दिल्ली पहुंचना होता है, पुरस्कार बांटने की बाकायदा रिहर्सल होती है और फिर अगले दिन पुरस्कार मिलता है।