Gujarat Exclusive > देश-विदेश > PM मोदी के बाद पूर्व IPS संजीव भट्ट की पत्नी AMU छात्रों को करेंगी संबोधित

PM मोदी के बाद पूर्व IPS संजीव भट्ट की पत्नी AMU छात्रों को करेंगी संबोधित

0
288

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की स्थापना दिवस के शताब्दी समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हिस्सा लिया था. AMU student Shweta Bhatt address

अब जानकारी सामने आ रही है कि गुजरात के पूर्व आईपीएस संजीव भट्टी की पत्नी श्वेता भट्ट 25 दिसंबर को एएमयू के छात्रों को संबोधित करेंगी.

संजीव भट्ट उस वक्त सुर्खियों में आए जब 2002 गुजरात दंगे में उन्होंने उस वक्त राज्य के मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी की कथित भूमिका को लेकर गंभीर आरोप लगाया था.

श्वेता भट्ट एएमयू छात्रों को करेंगी संबोधित

मिल रही जानकारी के अनुसार अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी कॉर्डिनेशन कमेटी इस कार्यक्रम का आयोजन कर रही है. AMU student Shweta Bhatt address

श्वेता भट्ट 25 दिसंबर को सर सैय्यद नॉर्थ हॉल में छात्रों को संबोधित करेंगी, 25 दिसम्बर की शाम 6 बजे श्वेता भट्ट ऑनलाइन छात्रों को संबोधित करेंगी.

इस कार्यक्रम को एएमयू कॉर्डिनेशन कमेटी के फेसबुक पेज पर भी लाइव किया जाएगा.

कल पीएम मोदी ने लिया था हिस्सा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित जहां युवाओं से भारत को आत्मनिर्भर बनाने की अपील की वहीं पीएम मोदी ने कहा कि आज पूरी दुनिया की नजर भारत पर है.

इसीलिए अब सबको मिलकर भारत को आगे बढ़ना है. आज युवा के पास बहुत कुछ करने का अवसर है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पहले मुस्लिम बेटियों को स्कूल ड्रॉपआउट रेट 70% से ज्यादा था जो अब घटकर करीब-करीब 30% रह गया है.

इसके पीछे की वजह थी कि पहले मुस्लिम बेटियां शौचायल की कमी की वजह से बीच में पढ़ाई छोड़ देती थीं. लेकिन अब हालात बदल रहे हैं. AMU student Shweta Bhatt address

संभाल चुके हैं मोदी की सुरक्षा AMU student Shweta Bhatt address

दिसंबर 1999 से सितंबर 2002 तक उन्होंने गांधीनगर स्थित स्टेट इंटेलिजेंस ब्यूरो में बतौर डिप्टी कमिश्नर ऑफ इंटेलिजेंस के तौर पर काम किया. उन पर गुजरात की आंतरिक, सीमा, तटीय और अहम प्रतिष्ठानों की सुरक्षा का जिम्मा था.

इसके अलावा गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की सिक्योरिटी भी भट्ट के ही हाथों में थी. इसी दौरान फरवरी-मार्च 2002 के दौरान गोधरा में ट्रेन जला दी गई, जिसके बाद सांप्रदायिक दंगे भड़क गए.

बताया जाता है कि इस घटना में एक हजार से ज्यादा लोग मारे गए. AMU student Shweta Bhatt address

9 सितंबर 2002 को मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने कथित तौर पर बहुचराजी में एक भाषण में मुस्लिमों में उच्च जन्म दर पर सवाल उठाए. हालांकि मोदी ने ऐसे किसी भाषण से इनकार किया.

इस पर नेशनल कमिशन फॉर माइनॉरिटीज (NCM) ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी. मोदी के तत्कालीन प्रिंसिपल सेक्रेटरी पीके मिश्रा ने बताया कि राज्य सरकार के पास उनके भाषण की कोई रिकॉर्डिंग नहीं है.

लेकिन स्टेट इंटेलिजेंस ब्यूरो ने भाषण की एक कॉपी एनसीएम को सौंप दी. इसके बाद मोदी सरकार ने ब्यूरो के वरिष्ठ अफसरों का तबादला कर दिया. इन अफसरों में संजीव भट्ट भी शामिल थे.

इसके बाद उन्हें स्टेट रिजर्व पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज का प्रिंसिपल बनाया गया. AMU student Shweta Bhatt address

2011 में हुए सस्पेंड AMU student Shweta Bhatt address

दंगों के 9 साल बाद 14 अप्रैल 2011 को भट्ट ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया और यही आरोप लगाए. उन्होंने गुजरात दंगों के लिए बनाई गई एसआईटी पर भी पक्षपात के आरोप लगाए.

13 अक्टूबर 2015 को सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी पर भट्ट के आरोपों को बेबुनियाद करार दिया. लेकिन इससे पहले ही जून 2011 में गुजरात सरकार ने ड्यूटी से गैरहाजिर रहने, ड्यूटी पर न रहते हुए भी आधिकारिक कार का इस्तेमाल करने और जांच कमिटी के सामने पेश न होने को लेकर भट्ट को सस्पेंड कर दिया. AMU student Shweta Bhatt address

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला, केंद्रीय मंत्री शेखावत को कोर्ट ने जारी किया नोटिस