Gujarat Exclusive > देश-विदेश > हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बतौर वोलंटियर लगवाया कोरोना का पहला टीका

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बतौर वोलंटियर लगवाया कोरोना का पहला टीका

0
528

 देश में कोरोना के आतंक के बीच आज से भारत बायोटेक और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की वैक्सीन कोवैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण शुरू हो गया है. हरियाणा के गृहमंत्री (Anil Vij) और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कोवैक्सीन परीक्षण में वालंटियर के तौर पर खुद को पहला टीका लगवाया है.

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि वह कोवैक्सीन परीक्षण में वालंटियर के तौर पर खुद को डॉक्टरों की देखरेख में सबसे पहले टीका लगवाएंगे. अनिल विज (Anil Vij) ने कहा था कि तीसरे राउंड में लगभग 26,000 लोगों पर ट्रायल किया जाएगा. मैंने इसके लिए अपना नाम भी दिया है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वॉरियर्स के बच्चों के लिए MBBS और BDS में रिजर्व होगी सीट 

बता दें कि देश में कुल 25 हजार 800 लोगों पर वैक्सीन का ट्रायल होना है. पीजीआई रोहतक के वाइस चांसलर ने कहा था कि कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल शुक्रवार से शुरू हो गया. पहले 200 वॉलियंटर्स को डोज दी जाएगी.

सफल रहा है पहला और दूसरा चरण

मालूम हो कि वैक्सीन के पहला और दूसरे चरण का परीक्षण और विश्लेषण सफल रहा है और अब तीसरे चरण का परीक्षण शुरु किया जा रहा है. पहले और दूसरे चरण के ह्यूमन ट्रायल में करीब एक हजार वॉलंटियर्स को यह वैक्सीन दी गई थी. इस वैक्सीन के तीसरे चरण का परीक्षण भारत में 25 केंद्रों में 26,000 लोगों के साथ किया जा रहा है. ये भारत में कोविड-19 वैक्सीन के लिए आयोजित होने वाला सबसे बड़ा ह्यूमन क्लिनिकल ट्रायल है. परीक्षण के दौरान वॉलंटियर्स को लगभग 28 दिनों के भीतर दो इंट्रामस्क्युलर इंजेक्शन दिए जाएंगे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें