Gujarat Exclusive > राजनीति > राम मंदिर ट्रस्‍ट के गठन का ऐलान, विपक्ष में घोषणा के वक्त पर खड़ा किया सवाल

राम मंदिर ट्रस्‍ट के गठन का ऐलान, विपक्ष में घोषणा के वक्त पर खड़ा किया सवाल

0
256

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कैबिनेट की बैठक के बाद लोकसभा में राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्‍ट बनाने की घोषणा की. मोदी सरकार ने ट्रस्‍ट का नाम राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन में घोषणा की कि हमने अयोध्या में राम मंदिर के विकास के लिए एक योजना तैयार की है. राम मंदिर निर्माण के लिए बने क्षेत्र को ‘श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र’ नाम दिया गया है. उन्होंने कहा कि मुझे इस सदन और पूरे देश को ये बताते हुए खुशी हो रही है कि आज सुबह कैबिनेट की बैठक में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को ध्यान में रखते हुए इस दिशा में अहम फैसले लिए गए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस ऐलान को कांग्रेस सियासी नजरिया से देख रही है कांग्रेस ने सवाल करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने चुनाव से ठीक पहले ही राम मंदिर ट्रस्ट का ऐलान क्यों किया है?

मोदी सरकार के फैसला पर सियासी बयानबाजी भी शुरु हो गई है कांग्रेस के बाद अब AIMIM के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने घोषणा के समय पर सवाल खड़ा किया है. उन्होंने कहा कि संसद का सत्र 11 फरवरी को समाप्त हो रहा है. यह घोषणा 8 फरवरी के बाद की जा सकती है. ऐसा लगता है कि बीजेपी दिल्ली चुनावों को लेकर चिंतित है. ओवैसी ने कहा कि जिन लोगों ने बाबरी मस्जिद का ढांचा ढहाया था, उन्हें ही मंदिर बनाने का काम सौंपा जा रहा है. बाबरी मस्जिद के विध्वंस को आने वाली नस्लों को भूलने नहीं दिया जाएगा. ओवैसी ने कहा, ‘बाबरी मस्जिद को न तो हम भूलेंगे और न आने वाली पीढ़ियों को भुलाने दिया जाएगा.

गौरतलब हो कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में जहां सत्ताधारी आम आदमी पार्टी शिक्षा, स्वास्थ्य को लेकर मैदान में उतरी है वहीं बीजेपी पहले तो शाहीन बाग में होने वाले नागरिकता कानून के विरोध को चुनावी मुद्दा बनाना चाहती थी. फिर चुनाव का कनेक्शन पाकिस्तान से भी जोड़ा गया लेकिन कामयाबी मिलते ना देख अब इस चुनाव को राम मंदिर के साथ जोड़ा जाने लगा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने दिल्ली चुनाव के लिए जितने भी रैली-सभा को संबोधित किया है उसमें जरुर इस मुद्दे को उठाया है इसीलिए कांग्रेस ऐसे वक्त में ट्रस्ट के गठन पर सवाल खड़ा किया है.