Gujarat Exclusive > देश-विदेश > अधीर रंजन चौधरी का एक और विवादित बयान, ‘भावनात्‍मक रूप से कश्‍मीर हमारे साथ नहीं’

अधीर रंजन चौधरी का एक और विवादित बयान, ‘भावनात्‍मक रूप से कश्‍मीर हमारे साथ नहीं’

0
174

लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी ने एक बार फिर ऐसा बयान दिया है, जिससे कांग्रेस को जवाब देना भारी पड़ जाएगा. अधीर रंजन चौधरी ने कहा- प्रधानमंत्री ने कल संसद में उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के खिलाफ बातें कीं और रात में उन पर सार्वजनिक सुरक्षा अधिनियम लगा दिया गया. आप इस तरह से कश्मीर पर शासन नहीं कर सकते. कश्‍मीर भले ही भौतिक रूप से हमारे साथ है पर भावनात्‍मक रूप से नहीं.

अधीर रंजन चौधरी से पहले कांग्रेस नेता और देश के पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और अन्य के खिलाफ पब्लिक सेफ्टी एक्ट (PSA-पीएसए) की क्रूर कार्रवाई से हैरान हूं. आरोपों के बिना किसी पर कार्रवाई लोकतंत्र का सबसे घटिया कदम है. जब अन्यायपूर्ण कानून पारित किए जाते हैं या अन्यायपूर्ण कानून लागू किए जाते हैं, तो लोगों के पास शांति से विरोध करने के अलावा क्या विकल्प होता है?

पीएसए लागू होने के बाद अब इन दोनों नेताओं को बिना किसी मुकदमे के दो साल तक हिरासत में रखा जा सकता है. आपको बता दें कि गुरुवार को लोकसभा में पीएम नरेंद्र मोदी ने असंसदीय टिप्‍पणी करने वाले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी को महात्‍मा गांधी के बहाने करारा जवाब दिया था. लोकसभा में राष्‍ट्रपति के अभिभाषण पर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव के दौरान कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी के महात्‍मा गांधी जिंदाबाद के नारे को ‘ट्रेलर’ बताए जाने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि आपके लिए गांधी जी ट्रेलर हो सकते हैं, हमारे लिए जिंदगी हैं.