Gujarat Exclusive > देश-विदेश > यूपी विधानसभा में ध्वनि मत से पारित हुआ ‘लव जिहाद विधेयक’

यूपी विधानसभा में ध्वनि मत से पारित हुआ ‘लव जिहाद विधेयक’

0
127

Anti Love Jihad Bill: उत्तर प्रदेश विधानसभा में बुधवार को उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध विधेयक 2021 यानी एंटी लव जिहाद विधेयक  को पारित कर दिया गया है. यूपी विधानसभा में बजट सत्र के 5वें दिन इस विधेयक को ध्वनि मत से पारित किया गया. Anti Love Jihad Bill

योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रदेश में धर्मांतरण के मामलों को रोकने के लिए ये मसौदा तैयार किया था. अध्यादेश के नियमों के तहत सरकार को 6 महीने के भीतर सदन में बिल पेश करके प्रस्ताव पास कराना होता है. Anti Love Jihad Bill

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी का तंज- ‘मोदी स्टेडियम में जय शाह की अध्यक्षता में अडानी और रिलायंस एंड’

 24 नवंबर को उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने लव जिहाद पर अध्यादेश को मंजूरी दी थी. इसके बाद इसे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के पास पारित करवाने के लिए भेजा गया था. राज्यपाल ने 28 नवंबर 2020 को इस अध्यादेश को अपनी मंजूरी दे दी थी.  बजट से पहले कैबिनेट की बैठक में उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश का प्रस्ताव भी पास किया गया. यह विधेयक विधानपरिषद में पास होने के बाद राज्यपाल के पास हस्ताक्षर के लिए भेजा जाएगा. उसके बाद यह एक कानून बन जाएगा. Anti Love Jihad Bill

10 साल तक की सजा का प्रावधान

अब यूपी में गैरकानूनी तरीके से धर्म परिवर्तन कराने या धर्म छिपाकर शादी करने के मामले में सख्त सजा का प्रावधान होगा. इस कानून के तहत जबरन धर्म परिवर्तन कराने वाले को एक साल से लेकर 10 साल तक की सजा के साथ-साथ अधिकतम 5 लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है. महिला, एससी/एसटी या वल्नरबल ग्रुप का अवैध रूप से धर्म परिवर्तित कराने पर 2 साल से 10 साल तक की जेल की सजा भुगतनी होगी. Anti Love Jihad Bill

शादी से पहले धर्म परिवर्तन के लिए 2 माह पहले नोटिस देना होगा. स्थानीय जिलाधिकारी ऐसे मामलों में अनुमति देंगे. धर्मगुरु धर्म परिवर्तन करता है तो उसे जिलाधिकारी से अनुमति लेनी होगी. Anti Love Jihad Bill

राहुल पर बरसे योगी

उधर विधानसभा की कार्यवाही के दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. मुख्यमंत्री ने कहा, हमने बेड की संख्या बढ़ाकर डेढ़ लाख तक की. वहीं, पीपीई किट घोटाले पर बोलते हुए सीएम ने कहा कि यह आरोप लगाया जा सकता है लेकिन यह पाप होगा.

सीएम योगी ने कहा, ” पीपीई किट भारत सरकार की तरफ से भेजा जाता है. उसकी भी हम जांच करवाते हैं, फिर इसे आगे बढ़ाते हैं.” साथ ही पल्स ऑक्सिमीटर का जिक्र करते हुए बिना नाम लिये राहुल गांधी को भी घेरा. उन्होंने कहा कि दिल्ली में रहने वाली एक पार्टी के सदस्य ने यहां पर आकर आरोप लगाए थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि, पहले इसकी कीमत 5 हजार से 15 हजार तक था बाद में इसे हम 250 रुपये तक लेकर आए. Anti Love Jihad Bill

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें