Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भारत की आबादी का एक बड़ा हिस्सा खुद ही कोरोना से ठीक हो गया: रिपोर्ट

भारत की आबादी का एक बड़ा हिस्सा खुद ही कोरोना से ठीक हो गया: रिपोर्ट

0
35092

भारत में कोरोना का प्रकोप धीरे-धीरे अपने चरम पर पहुंच रहा है. इस बीच इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने ताजा सर्वे में एक राहत की खबर सामने आई है. आईसीएमआर के सर्वे में बताया गया है कि देश की आबादी का एक बड़ा हिस्‍सा कोरोना वायरस संक्रमण के बाद खुद ही ठीक हो गया है.

आईसीएमआर ने लोगों के बीच कोरोना की पहुंच और इसके असर का पता लगाने के लिए सीरोलॉजिकल सर्वे किया गया था. इस सर्वे की रिपोर्ट कैबिनेट सचिव और प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ शेयर की गई थी. न्‍यू इंडियन एक्‍सप्रेस ने अपने सूत्रों के हवाले से सर्वे रिपोर्ट छापी है.

आईसीएमआर ने खास एंटीबॉडीज की पहचान के लिए देश के 70 जिलों में 24 हजार लोगों पर सीरोलॉजिकल सर्वे करवाया है. ब्‍लड सैंपल के जरिए इंसान के शरीर में एंटीबॉडीज का पता लगाया जाता है. एंटीबॉडीज बताती है कि कोई इंसान वायरस का शिकार हुआ है या नहीं. एंटीबॉडीज संक्रमण से लड़ने में मदद करती है. संक्रमण के 14 दिन बाद शरीर में एंटीबॉडीज मिलने लगती है और महीनों तक इंसान के ब्लड सीरम में रहती है. सर्वे में पाया गया कि कंटेंमेंट जोन में 15 से 30 फीसदी आबादी को संक्रमण हो चुका है.

यह सर्वे उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, बिहार, असम, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर समेत 19 राज्यों के हॉटस्पॉट शहरों में किया गया है. इसमें मुंबई, पुणे, अहमदाबाद सूरत, इंदौर, दिल्ली, आगरा सहित देश के तमाम उन शहरों को शामिल किया गया जहां सर्वाधिक केंटेनमेंट जोन या हॉटस्पॉट हैं.