Gujarat Exclusive > देश-विदेश > मेरठ: किसान महापंचायत में बोले अरविंद केजरीवाल, तीनों कृषि कानून किसानों के लिए डेथ वारंट

मेरठ: किसान महापंचायत में बोले अरविंद केजरीवाल, तीनों कृषि कानून किसानों के लिए डेथ वारंट

0
220

मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. किसान नेता आंदोलन को धार देने के लिए जगह-जगह पर किसान महापंचायत का आयोजन कर किसानों को यह समझाने की कोशिश कर रहे हैं कि नए कृषि कानून लागू होने से किसानों को कितना नुकसान होगा. Arvind Kejriwal Kisan Mahapanchayat

उत्तर प्रदेश के मेरठ में होने वाली किसान महापंचायत में हिस्सा लेने पहुंची आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला.

किसान महापंचायत में हिस्सा लेने मेरठ पहुंचे अरविंद केजरीवाल Arvind Kejriwal Kisan Mahapanchayat

उत्तर प्रदेश के मेरठ में होने वाली किसान महापंचायत में किसानों को संबोधित करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आज अपने देश का किसान बहुत पीड़ा में है.

95 दिनों से कड़कती ठंड में किसान भाई दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं. 250 से ज़्यादा​ किसान शहीद हो चुके हैं लेकिन सरकार पर जूं नहीं रेंग रही.

पिछले 70 साल में इस देश के किसान ने ​केवल धोखा देखा है. Arvind Kejriwal Kisan Mahapanchayat

लालकिले पर झंडे फहराने वाले BJP के कार्यकर्ता

इतना ही केजरीवाल मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों नए कृषि कानूनों पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि केंद्र के ये तीनों कानून किसानों के डेथ वारंट हैं, ये तीनों कानून लागू होने के बाद किसानों की बची कुची खेती केंद्र सरकार अपने तीन-चार बड़े पूंजीपति साथियों के हाथों में सौंपना चाहती है. सबकी खेती चली जाएगी. Arvind Kejriwal Kisan Mahapanchayat

26 जनवरी को किसानों द्वारा दिल्ली में निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान होने वाली हिंसा को लेकर केजरीवाल ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए लाल किले का पूरा कांड इन्होंने खुद कराया.

मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री हूं, उत्तर प्रदेश, पंजाब के लोगों और किसानों ने मुझे बताया कि ये जानबूझकर उधर भेज रहे थे. Arvind Kejriwal Kisan Mahapanchayat

जिन्होंने झंडे फहराए वो इनके अपने कार्यकर्ता थे. गौरतलब है कि किसान तीन माह से ज्यादा वक्त से तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मोदी से ज्यादा ताकतवर अंग्रेजों को जनता ने खदेड़ दिया, वैसे ही PM को नागपुर भेज देंगे: राहुल गांधी