Gujarat Exclusive > देश-विदेश > किसानों के समर्थन में सोमवार को उपवास रखेंगे दिल्ली के सीएम केजरीवाल

किसानों के समर्थन में सोमवार को उपवास रखेंगे दिल्ली के सीएम केजरीवाल

0
173

कृषि कानूनों को लेकर लगातार किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार बढ़ता जा रहा है. इसी बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने एक अहम फैसला किया है. इसी बीच कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर पिछले कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे किसानों (Farmers Protest) के समर्थन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भी रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. किसानों के प्रति अपना समर्थन जताते हुए केजरीवाल ने कल (सोमवार) एक दिन के उपवास का ऐलान किया है.

दिल्ली के सीएम (Arvind Kejriwal) ने पूरे देश से अपील करते हुए कहा कि किसानों के समर्थन में 1 दिन का उपवास रखें. मैं भी कल 1 दिन का उपवास रखूंगा.

यह भी पढ़ें: दिल्ली-जयपुर हाईवे पर उतरे राजस्थान के किसान, गृहमंत्री से मिले कृषि मंत्री

केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि आम आदमी पार्टी के सभी समर्थकों और वालंटियर से अपील करता हूं कि कल 1 दिन का उपवास रखें और किसानों का समर्थन करें. देश के सभी लोगों से अपील करता हूं, लाखों-करोड़ों लोग किसानों के साथ हैं. अपने अपने घरों में किसानों की मांगों के समर्थन में 1 दिन का उपवास रखें.’

देशद्रोही पर सवाल Arvind Kejriwal 

साथ ही केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने भाजपा पर निशाना साधते हुए उनसे देशभत्ति वाले मामले पर सवाल किए हैं. उन्होंने कहा, “कुछ केंद्र सरकार के मंत्री और बीजेपी नेता कह रहे हैं कि किसान राष्ट्र-विरोधी हैं. कई पूर्व सैनिक, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी, गायक, मशहूर हस्तियां, डॉक्टर, व्यापारी किसानों का समर्थन कर रहे हैं. बीजेपी से पूछना चाहते हैं कि क्या ये सभी लोग भी देशद्रोही हैं?”

दिल्ली के मुख्यमंत्री (Arvind Kejriwal) ने कहा, ‘जब हम अन्ना आंदोलन कर रहे थे और रामलीला मैदान में आंदोलन हो रहा था तो हमारे खिलाफ भी ऐसे ही बदनाम करने की कोशिश की जा रही थी कांग्रेस सरकार द्वारा. वैसी ही कोशिश आज किसानों के आंदोलन को बदनाम करने के लिए बीजेपी कर रही है और सत्ता पक्ष कर रहा है. इस देश के किसानों को एंटी नेशनल कहने की हिम्मत मत करना. कुछ लोग कह रहे हैं कि इसमें पंजाब और हरियाणा के कुछ किसान इसमें शामिल हैं बाकि जनता इसमें शामिल नहीं है.

अरविंद केजरीवाल ने कहा, “कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों की सभी मांगों को केंद्र को तुरंत स्वीकार करना चाहिए और एमएसपी की गारंटी के लिए विधेयक लाना चाहिए. केंद्र को अहंकार छोड़ देना चाहिए और किसान जिन तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं उन्हें रद्द कर देना चाहिए.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सरदार पटेल की अनदेखी, अहमदाबाद एयरपोर्ट रोड पर लगा अडाणी का बोर्ड