Gujarat Exclusive > गुजरात > सोला पुलिस पर हमला संजय दुबे ने कहा- अगर पुलिसवाले हो तो क्या मैं यहां का दादा हूं

सोला पुलिस पर हमला संजय दुबे ने कहा- अगर पुलिसवाले हो तो क्या मैं यहां का दादा हूं

0
886

अहमदबाद: चांदलोडिया इलाके की राधिका सोसायटी में सोला पुलिस गुप्त सूचना के आधार पर आई -20 कार की चेकिंग करने गई थी.

पुलिस की टीम वहां पहुंची तो वहां पहले से मौजूद संजय दुबे नाम के एक व्यक्ति ने पुलिसकर्मियों से कहा, “अगर पुलिसवाले हो क्या मैं यहाँ दादा हूँ. यहां आईंदा नहीं आना नहीं तो जान से मार दूंगा.”

पुलिसकर्मियों पर हमला

इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने आरोपी को समझाने की कोशिश की लेकिन इसी दौरान आरोपी ने पुलिसवालों पर हमला कर दिया.

मामला बिगड़ा देख पुलिस ने अन्य टीम को बुलाया इस दौरान आरोपी फरार हो गया.

यह भी पढ़ें: बिना फायर NOC के चल रहा था अहमदाबाद का श्रेय अस्पताल: सूत्र

पुलिस ने जब कार की तलाशी ली तो अंदर से अंग्रेजी शराब मिली

सोला पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ प्रोहीबिशन और ड्यूटी के दौरान पुलिस पर हमला करने के आरोप में मामला दर्ज किया है.

सोला पुलिस स्टेशन के हेड कांस्टेबल वीरभद्र सिंह और कांस्टेबल नरेश कुमार के हाथों गुप्त सूचना लगी थी कि राधिका सोसाइटी चांदलोडिया में सफेद आई-20 कार को चेक करने गए थे.

वहां मौजूद संजय विजय दुबे ने पुलिसकर्मियों से कहा कि आप कार के सामने क्यों देख रहे हैं? जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने अपनी पहचान बताकर तलाशी लेने की बात कही.

पुलिस के हाथों लगी थी गुप्त सूचना 

इस दौरान संजय ने कहा कि अगर तुम पुलिसवाले हो तो क्या हुआ मैं यहां का दादा हूं. यह कहकर पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने लगा. इस हमले में पुलिस कांस्टेबल नरेश कुमार घायल हो गए.

इस दौरान घटनास्थल पर मौजूद एक अन्य आदमी ने भी पुलिसकर्मियों पर हमला करने की कोशिश किया.

कांस्टेबल वीरभद्र सिंह ने पुलिस टीम को मदद के लिए बुलाया तो दोनों आरोपी भाग गए. लेकिन उन्होंने जाते-जाते धमकी दी कि आज तो बच गए. लेकिन अगर अगली बार आए तो छोड़ूंगा नहीं.

जांच के दौरान पुलिस के हाथों कार से दो बोतल अंग्रेजी शराब और दो मोबाइल मिला.

पुलिस ने कार सहित 4 लाख से ज्यादा का मुद्दामाल जब्त कर मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बिना फायर NOC के चल रहा था अहमदाबाद का श्रेय अस्पताल: सूत्र