Gujarat Exclusive > राजनीति > टेप कांड की CBI से जांच कराने की मांग कर सच दबाने की कोशिश: अभिषेक मनु सिंघवी

टेप कांड की CBI से जांच कराने की मांग कर सच दबाने की कोशिश: अभिषेक मनु सिंघवी

0
689

राजस्थान में जारी सियासी हंगामा अब नया मोड़ ले रही है. कांग्रेस और भाजपा के बीच होने वाले आरोप-प्रत्यारोप अब सीबीआई जांच तक पहुंच गई है. टेप कांड को लेकर जहां भाजपा इस मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रही है. वहीं कांग्रेस इस मामले को लेकर सवाल खड़ा कर रही है कि मामले को दबाने के भाजपा सीबीआई से जांच करने की मांग कर रही है.

इस मामले को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने भाजपा पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए कहा कि मामले को लेकर एफआईआर दर्ज की जा चुकी है. वहीं इस मामले की पुलिस जांच भी कर रही है. लेकिन जांच में रुकावट डालने और मामले को दबाने के लिए भाजपा इसे सीबीआई से जांच कराने की मांग कर रही है. इतना ही नहीं उन्होंने तंज सकते हुए कहा कि क्या मामले को लेकर क्लीनचिट देने के लिए ही सीबीआई से जांच कराने की मांग की जा रही है.

गौरतलब है कि राजस्थान में जारी सियासी हंगामा के बीच कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक कथित ऑडियो क्लिप जारी कर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर राजस्थान की चुनी हुई गहलोत सरकार को स्थिर करने का आरोप लगाया था. वहीं इस मामले को लेकर राजस्थान भाजपा ने अपने नेताओं के नाम गलत तरीके से इस्तेमाल करने के मामले को लेकर कांग्रेस के कई नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज कराया था.

बीते दिनों इस मामले को लेकर भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि अशोक गहलोत के मुख्यमंत्री बनने के बाद शीतयुद्ध की स्थिति बनी रही. संबित पात्रा ने कहा, राजस्थान में कांग्रेस का राजनीतिक ड्रामा हम देख रहे हैं. ये षड्यंत्र, झूठ फरेब और कानून को ताक पर रखकर कैसे काम किया जाता है, उसका मिश्रण है. वहां जो राजनीतिक नाटक खेला जा रहा है, वो यही मिश्रण है. मामले की जांच सीबीआई से जांच कराकर मामले की सच्चाई लोगों के सामने लानी चाहिए.

बीते 24 घंटों में दर्ज हुए कोरोना के करीब 39 हजार नए मामले, 543 की मौत