Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > पतंजलि की कोरोनिल किट पर कोई रोक नहीं, देशभर में होगी उपलब्ध: बाबा रामदेव

पतंजलि की कोरोनिल किट पर कोई रोक नहीं, देशभर में होगी उपलब्ध: बाबा रामदेव

0
486

कोरोना वायरस की दवा बनाने का दावा करने वाले योग गुरू बाबा रामदेव एकबार फिर बुधवार को अपनी किट को लेकर मीडिया के सामने आए. बाबा रामदेव ने दावा किया कि पतंजलि आयुर्वेद की कोरोनिल किट पर कोई प्रतिबंध नहीं है और अब यह देशभर में उपलब्ध होगी. उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, ‘आयुष मंत्रालय ने बताया है कि पतंजलि ने कोविड-19 प्रबंधन के लिए उचित काम किया है. पतंजलि ने सही दिशा में काम करना शुरू कर दिया है.’

बाबा रामदेव ने आगे कहा कि हमने इन दवाओं के लिए राज्य से लाइसेंस प्राप्त किया है, जोकि आयुष मंत्रालय से जुड़ा हुआ है. उपचार शब्द का उपयोग नहीं किया गया है. इन दवाओं में कोई धातु की वस्तु नहीं है. रामदेव ने कहा, ‘आयुष मंत्रालय के साथ हमारी कोई असहमति नहीं है. अब कोरोनिल, श्वासारि, गिलोय, तुलसी, अश्वगंधा पर कोई प्रतिबंध नहीं है. आज से ये दवाइयां (श्वासारि कोरोनिल किट) बिना किसी कानूनी प्रतिबंध के देश में उपलब्ध होंगी. इसपर कोई भी प्रतिबंध नहीं है.’ इस दौरान बाबा रामदेव ने ये भी कहा कि मैं इसके लिए आयुष मंत्रालय और नरेंद्र मोदी सरकार को धन्यवाद देता हूं.

उधर उत्तराखंड हाई कोर्ट ने बाबा रामदेव को नोटिस जारी किया है. इस दवा को बैन करने के लिए हाई कोर्ट में दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए उत्तराखंड हाई कोर्ट ने बाबा रामदेव, दिव्य फार्मेसी, निम्स यूनिवर्सिटी के साथ-साथ राज्य और केंद्र सरकार को भी नोटिस जारी किया है.

मालूम हो कि 23 जून को योगगुरु स्वामी रामदेव ने जयपुर स्थित निम्स यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर कोरोना की दवा बनाने का दावा किया था. हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण ने बताया था कि दवा का क्लिनिकल टेस्ट किया गया है और ट्रायल में सात दिनों में 100 फीसदी मरीज ठीक हुए हैं. इसके बाद केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने उन सभी दावों का खंडन किया और पतंजलि आयुर्वेद को नोटिस जारी करते हुए जवाब मांगा.

चीन पर डबल स्ट्राइक की तैयारी में भारत, अब हाइवे प्रॉजेक्ट्स से बैन होंगीं चीनी कंपनियां