Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, चार विधायकों ने दिया इस्तीफा

गुजरात राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, चार विधायकों ने दिया इस्तीफा

0
1318

गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के चार विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. खबर है कि लिंबडी के विधायक सोमा पटेल और धारी के विधायक जे वी काकडीया सहित चार विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है. बीजेपी ने प्रदेश की तीन राज्यसभा सीटों पर कब्जा जमाने के लिए नरहरि अमीन को उतारने का फैसला कर कांग्रेस की चिंता को बढ़ा दिया है.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा गुजरात राज्यसभा चुनाव के लिए तीसरा उम्मीदवार मैदान में उतारे जाने के साथ कांग्रेस की धड़कनें बढ़ गई हैं. कांग्रेस को डर है कि कहीं उसके विधायक भाजपा के पाले में न चले जाएं, इसलिए उसने शनिवार को अपने 14 विधायकों को इंडिगो फ्लाइट से राजस्थान के लिए रवाना कर दिया. वहीं पांच विधायक सड़क मार्ग से राजस्थान के लिए रवाना हो गए.

कांग्रेस का इनकार

कांग्रेस प्रवक्ता जयराज सिंह परमार ने कहा कि भाजपा के छह विधायक हमारे संपर्क में हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर गुजरात के तीन भाजपा विधायक हमारे संपर्क में हैं जिनके नाम बताऊंगा तो भाजपा की निंद उड़ जाएगी. दूसरे तरफ गुजरात कांग्रेस के विपक्ष नेता परेश धनानी ने कहा कि कांग्रेस के एक भी विधायक ने पार्टी नहीं छोड़ी है. कांग्रेस का एक भी इंमानदार नेता भाजपा के संपर्क में नहीं है.

क्या हैं मौजूदा हालात ?

मौजूदा हालातों में 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा में भाजपा के पास 103, जबकि कांग्रेस के पास 73 विधायक हैं. राज्यसभा के उम्मीदवार को जीतने के लिए 37 वोटों की जरूरत होगी. दोनों पार्टियों के पास दो सीटें जीतने के लिए पर्याप्त ताकत है. कांग्रेस को उम्मीद है कि निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी उनके उम्मीदवार के लिए ही वोट करेंगे. राज्यसभा की चार सीटों में से फिलहाल भाजपा के पास तीन और कांग्रेस के पास 1 सीट है.

राज्यसभा चुनाव के लिए तीसरे उम्मीदवार नरहरि अमीन को मैदान में उतारकर भाजपा ने कांग्रेस की चिंता बढ़ा दी है. इसके अलावा एनसीपी और बीटीपी विधायक भी बीजेपी का समर्थन कर सकते हैं. गुजरात से चार राज्यसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों ने शुक्रवार को नामांकन पत्र भरा. इससे पहले भाजपा ने वकील और आरएसएस कार्यकर्ता अभय भारद्वाज और पूर्व विधायक रमीला बारा के नामों की घोषणा की थी. हालांकि, बाद में कांग्रेस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री भरत सिंह सोलंकी और बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल को अपना उम्मीदवार घोषित किया.

राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात कांग्रेस को हॉर्स ट्रेडिंग का डर, पार्टी विधायक राजस्थान रवाना