Gujarat Exclusive > राजनीति > बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, लगा दी वादों की झड़ियां

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, लगा दी वादों की झड़ियां

0
297
  • महागठबंधन की सहयोगी पार्टी कांग्रेस ने जारी किया चुनावी घोषणा पत्र
  • कांग्रेस ने घोषणा पत्र जारी कर लगा की वादों की झड़ियां
  • किसान, बेरोजगार और शिक्षा पर कांग्रेस ने दिया जोर
  • 28 अक्टूबर को होगा विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर को होगा. चुनाव से बिल्कुल पहले जनता को लुभाने के लिए राजनीतिक पार्टियों ने वादों की लंबी चौड़ी फेहरिस्त जनता के सामने रखा दिया है.

इस बीच महागठबंधन की सहयोगी पार्टी कांग्रेस ने चुनाव को मद्देनजर रखते हुए अपना घोषणा पत्र जारी किया है.

कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र को बिहार बदलाव पत्र नाम दिया है. कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में किसान, बेरोजगार और शिक्षा पर जोर दिया है.

कांग्रेस ने घोषणा पत्र जारी कर लगा की वादों की झड़िया

कांग्रेस ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी किया. इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, वरिष्ठ नेता राज बब्बर, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के साथ कई नेता मौजूद रहे.

कांग्रेस ने चुनावी घोषणा पत्र में दावा किया कि अगर उनकी सरकार बनती है तो किसानों को मु्फ्त बिजली कर्ज माफी और बेटियों को इंसाफ मिलेगा.

इतना ही नहीं बेरोजगारों को मासिक भत्ता देने पर भी जोर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल दुर्गा पूजा पंडाल मामले को लेकर कलकत्ता हाईकोर्ट ने दी आंशिक ढील

किसान, बेरोजगार और शिक्षा पर कांग्रेस ने दिया जोर

अगले हफ्ते शुरू होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी करते हुए दावा किया है कि केजी से लेकर पीजी तक बच्चियों की शिक्षा को मुफ्त कर दी जाएगी.

इतनी ही नहीं 12 वीं कक्षा में 90 फीसदी से ज्यादा अंक हासिल करने वाली छात्राओं को स्कूटी सौगात में दी जाएगी. पिछले दिनों पास होने वाले कृषि कानून को भी खारिज करने का वादा किया गया है.

नौकरी नहीं मिलने तक बेरोजगारों को हर महीने 1500 रुपया बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा.

तीन चरणों में वोटिंग, 10 नवंबर को नतीजा

देश में कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान कर दिया है. पहले चरण का मदताद 28 अक्टूबर को होगा.

दूसरे चरण की वोटिंग 3 नवंबर जबकि तीसरे और आखिरी चरण का मतदान 7 नवंबर को होगा. वोटों की गिनती 10 नवंबर को की जाएगी.

कोरोना संकट की वजह से इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव का समय बढ़ा दिया गया है. मतदान सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा.

पहले चरण में यानी 28 अक्टूबर को 16 जिलों की 71 सीटों पर चुनाव आयोजित होगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

ट्वीट कर लालू ने नीतीश पर बोला हमला, कहा- पलटू राम को कुर्सी पहुंचा देना