Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद से चंडीगढ़ जा रही गो फर्स्ट की फ्लाइट से टकराया पक्षी

अहमदाबाद से चंडीगढ़ जा रही गो फर्स्ट की फ्लाइट से टकराया पक्षी

0
94

अहमदाबाद से चंडीगढ़ जा रहे विमान से पक्षी टकराने की जानकारी सामने आ रही है. जिसके बाद फ्लाइट को डायवर्ट कर दिया गया. डीजीसीए के मुताबिक, गो फर्स्ट फ्लाइट ने 4 अगस्त को अहमदाबाद से चंडीगढ़ के लिए उड़ान भरी थी. एक पक्षी के टकराने के बाद इसे अहमदाबाद की ओर मोड़ दिया गया.

जून माह में हुई दो घटनाएं
इससे पहले जून में भी पटना से दिल्ली और दिल्ली से गुवाहाटी के लिए एक विमान की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई थी. इन दोनों विमानों में बर्ड स्ट्राइक के कारण तकनीकी खराबी आ गई थी. उड़ान भरने के तुरंत बाद विमानों को उतरना पड़ा था. विमान के इंजन में भी आग लग गई थी. पहली घटना पटना से दिल्ली की फ्लाइट में हुई थी. यह स्पाइस जेट का विमान था. पटना से उड़ान भरने के बाद इसके इंजन में आग लग गई थी. उसके बाद विमान की पटना एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई. विमान में 185 यात्री सवार थे. गनीमत रही कि किसी यात्री को चोट नहीं आई. एक और घटना दिल्ली से गुवाहाटी की उड़ान में हुई. यह इंडिगो की उड़ान थी. फ्लाइट 1600 फीट की ऊंचाई पर थी, तभी एक पक्षी ने उसके इंजन को टक्कर मार दी. इसके बाद विमान को वापस दिल्ली एयरपोर्ट के लिए बुलाया गया.

बर्ड स्ट्राइक आमतौर पर तब होती है जब विमान कम ऊंचाई पर उड़ रहे होते हैं. लैंडिंग और टेकऑफ़ के दौरान ऐसी घटनाएं अधिक होती हैं. सामान्य तौर पर यह हमले खतरनाक नहीं होते हैं, लेकिन कभी-कभी पक्षियों के हमले से स्थिति और खराब हो जाती है और विमान को तुरंत उतरना पड़ता है.

इंटरनेशनल सिविल एविएशन ऑर्गनाइजेशन (आईसीएओ) के एक सर्वे के मुताबिक, हर दिन पक्षियों के विमान से टकराने की औसतन 34 घटनाएं सामने आती हैं. इससे सालाना 1 अरब डॉलर (करीब 7,800 करोड़ रुपये) का नुकसान हो रहा है. सर्वे में यह भी सामने आया कि करीब 92 फीसदी घटनाओं में कोई नुकसान नहीं होता है.

मैं मोदी से बिल्कुल भी नहीं डरता, वह हमें डराने की कोशिश कर रहे हैं: राहुल गांधी