Gujarat Exclusive > गुजरात > बारडोली में किसान सम्मेलन, सीआर पाटिल ने गिनाए कृषि कानून के फायदे

बारडोली में किसान सम्मेलन, सीआर पाटिल ने गिनाए कृषि कानून के फायदे

0
292

सूरत: केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि कानून के खिलाफ जहां एक तरफ किसान आंदोलन कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ भाजपा लगातार दावा कर रही है कि किसानों को गुमराह किया जा रहा है.

भाजपा गुजरात भर के किसानों को तीनों नए कृषि कानूनों को लेकर जागरूक करने के लिए किसान सम्मेलन का आयोजन कर रही है.BJP Bardoli Kisan Sammelan

सूरत जिला के बारडोली में किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए गुजरात भाजपा के अध्यक्ष सीआर पाटिल ने एक बार फिर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला.

भाजपा किसानों को समझाने के लिए कर रही है किसान सम्मेलन BJP Bardoli Kisan Sammelan 

पाटिल ने बारडोली के स्वराज आश्रम मैदान में आयोजित किसान सम्मेलन में किसानों से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में कृषि कानून पर मार्गदर्शन देते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला.

पाटिल ने कहा, “किसानों को विपक्ष द्वारा गुमराह किया जा रहा है.” कांग्रेस सहित कई विपक्षी दल अपने-अपने राजनीतिक स्वार्थों के लिए किसानों को इस्तेमाल कर रहे हैं.

सम्मेलन में किसानों से ज्यादा दिखे भाजपा के कार्यकर्ता BJP Bardoli Kisan Sammelan 

इस अधिवेशन में सूरत के अलावा तापी, भरूच और नर्मदा जिलों के किसान भी उपस्थित थे. BJP Bardoli Kisan Sammelan 

दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के मद्देनजर नए कृषि कानूनों के बारे में किसानों को जागरूक करने और मार्गदर्शन करने के लिए भाजपा पूरे देश में किसान सम्मेलन का आयोजन कर रही है.

बारडोली में होने वाले किसान सम्मेलन में सीआर पाटिल नए कृषि कानून से होने वाले फायदा को गिनाते हुए नजर आए. BJP Bardoli Kisan Sammelan 

लेकिन किसान सम्मेलन में की तस्वीरों को देखने के बाद ऐसा लगा कि यह किसान सम्मेलन नहीं बल्कि भाजपा का कोई कार्यक्रम है क्योंकि किसानों से ज्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की मौजूदगी देखी गई.

इस मौके पर पाटिल ने पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री शरद पवार पर हमला बोलते हुए कहा कि वह सबसे लंबे समय तक कृषि मंत्री रहे हैं और सबसे असफल कृषि मंत्री भी रहे.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अहमदाबाद नगर निगम की फिक्स वेतन नीति के खिलाफ उम्मीदवारों में नाराजगी