Gujarat Exclusive > गुजरात > वलसाड: कोरोना मानदंड़ों की परवाह किए भाजपा नेता की शादी में डीजे पर थिरके लोग

वलसाड: कोरोना मानदंड़ों की परवाह किए भाजपा नेता की शादी में डीजे पर थिरके लोग

0
46

गुजरात सरकार लगातार लोगों से कोरोना दिशानिर्देशों का पालन करने की अपील कर रही है लेकिन खुद भाजपा के कई नेता (BJP Leader) अब मानदंडों का उल्लंघन करते हुए पकड़े गए हैं. ताजा मामले में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें वलसाड के धरमपुर में एक भाजपा नेता (BJP Leader) की शादी में डीजे पार्टी में कई लोग नाचते हुए दिखाई दे रहे हैं.

वीडियो बीजेपी नेता (BJP Leader) केतन वाधु के विवाह समारोह का है, जहां लोग डीजे की धुन पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते दिखाई दे रहे हैं. वीडियो सामने आने के बाद पुलिस ने 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

यह भी पढ़ें: सोशल मीडिया पर दावा- सरकार ने अडानी को बेची रेलवे

रिपोर्टों के अनुसार, केतन वाधु (BJP Leader) ने अपनी शादी में कई लोगों को आमंत्रित किया, जिससे भीड़ बढ़ गई. उपस्थित लोगों ने डीजे की धुन पर खूब डांस किया और उन्होंने ना तो मास्क पहने थे और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया था. दिलचस्प बात यह है कि सरकार द्वारा इस तरह के आयोजनों रोक के बावजूद इस तरह का कार्यक्रम रखा गया.

भाजपा के तालुका प्रमुख हैं केतन

वलसाड के एसपी राजदीपसिंह झाला ने कहा कि यह घटना 26 दिसंबर को धरमपुर में हुई थी. अरविंद वाधु ने अपने बेटे केतन (BJP Leader) के विवाह समारोह के उपलक्ष में डांस पार्टी का आयोजन किया था जो भाजपा के तालुका प्रमुख भी हैं.

पुलिस को इस कार्यक्रम के बारे में सूचित किया गया था लेकिन बाद में पता चला कि 100 से अधिक लोग इस कार्यक्रम में शामिल हुए थे. पुलिस ने कहा कि उसने मौके पर पहुंचकर भीड़ को तितर-बितर किया और 11 लोगों के खिलाफ कोरोना मानदंडों के उल्लंघन के लिए मामला दर्ज किया. मौके से आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया.

पहले भी भाजपा नेता पर उठ चुके हैं सवाल

इससे पहले भी भाजपा नेता (BJP Leader) कोरोना मानदंड़ों का उल्लंघन करते पाए गए हैं. दिसंबर में अपनी पोती के सगाई समारोह का एक वीडियो वायरल होने के बाद तापी भाजपा नेता कांति गामित को गिरफ्तार किया गया था. घटना में एकत्रित हजारों लोग बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के पाए गए थे. कांति गामित की पोती के सगाई समारोह में हजारों की भीड़ का वीडियो वायरल होने के बाद सरकार की कड़ी आलोचना भी हुई थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें