Gujarat Exclusive > गुजरात > भगेड़ू नित्यानंद के खिलाफ इंटरपोल ने जारी की ब्लू कॉर्नर नोटिस, सहयोगी मंजूला श्रोफ पर होगी कार्यवाही?

भगेड़ू नित्यानंद के खिलाफ इंटरपोल ने जारी की ब्लू कॉर्नर नोटिस, सहयोगी मंजूला श्रोफ पर होगी कार्यवाही?

0
230

रेप और अपहरण के आरोपी नित्यानंद के खिलाफ गुजरात पुलिस की अपील पर बुधवार को इंटरपोल ने नोटिस जारी किया है. रेप और अपहरण के आरोप लगने के बाद नित्यानंद पिछले साल भारत छोड़कर भाग गया था. नित्यानंद को ढूंढ़ने, उसकी पहचान करने और उससे जुड़ी जानकारी हासिल करने के लिए गुजरात पुलिस की अपील पर ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया गया है. बता दें कि देश से भागने के बाद नित्यानंद का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था. जिसमें वह कह रहा था कि उसे कोई भी नहीं छू सकता है और न कोई अदालत उस पर मुकदमा चला सकती है. इतना ही नहीं वह अपने आपको परमेश्वर और शिव भी बता रहा है.

बता दें कि देश छोड़कर भागे दुष्कर्म के हाई प्रोफाइल आरोपी स्वामी नित्यानंद का कोई सुराग नहीं है. पुलिस और एजेंसियों को भनक तक नहीं लगी और अपनी शिष्याओं से दुष्कर्म का आरोपी नित्यानंद देश छोड़ कर चला गया. इतना ही नहीं उसने वीडियो के जरिए एजेंसियों को चुनौती भी लगातार दे रहा है.

खबरें ऐसी हैं कि नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया था और उसने लैटिन अमेरिका के इक्वेडोर में एक द्वीप खरीदकर उसे एक संप्रभु हिंदु राष्ट्र घोषित कर दिया है. इसका नाम उसने ‘कैलासा’ रखा है. इसकी वेबसाइट भी है और बाकायदा पासपोर्ट भी जारी किया गया है. इस बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने नित्यानंद का पासपोर्ट भी रद्द कर दिया था और अपने सभी विदेशी दूतावासों को उसके आवाजाही पर नजर रखने के लिए ‘अवगत’ करा दिया है.

पूर्वी अहमदाबाद के हाथीजण इलाके में मौजूद डीपीएस स्कूल में चलने वाले आश्रम से दो लड़कियों के गायब होने के बाद ये पूरा मामला तूल पकड़ा था. जहां ये पूरा मामला फिलहाल गुजरात हाईकोर्ट में चल रहा है वहीं इस मामले में पुलिस कोई कार्रवाई करती इससे पहले नित्यानंद देश छोड़कर फरार हो चुका था. लेकिन गुजरात पुलिस के अपील के बाद इंटरनपोल ने ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया है. लेकिन सवाल ये उठता है कि गुजरात में इस पाखंडी बाबा के लिए नेटवर्क तैयार करने वाले लोगों पर अभी तक कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही? क्या गुजरात पुलिस बाबा के जैसे ही गुजरात के बाबा के सहयोगी मंजूला श्रॉफ, अमिताभ शाह और रश्मि शाह के फरार होने के बाद कोई कार्रवाई करेगी?