Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया, कोरोना के नए स्ट्रेन से खौफ

भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया, कोरोना के नए स्ट्रेन से खौफ

0
185

ब्रिटेन में कोरोना के नए स्ट्रेन ने दुनिया के कई देशों में खलबली मचा दी है. इस नए तरह के स्ट्रेन के खौफ के कारण भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों (Britain Flights) पर 31 दिसंबर तक रोक लगा दी हैं. इससे पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी उड़ानों (Britain Flights) पर शीघ्र रोक लगाने की मांग की थी. हालांकि स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा था कि हम स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं, घबड़ाने की जरूरत नहीं है.

सोमवार को नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से यह कहा गया कि ब्रिटेन में पैदा हुए मौजूदा हालात को देखते हुए भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी फ्लाइट्स (Britain Flights) को 23 दिसंबर से 31 दिसंबर 2020 की रात 11 बजकर 59 मिनट तक रोक लगाने का फैसला किया है.

यह भी पढ़ें: ब्रिटेन में नए प्रकार के कोरोना का आतंक, स्वास्थ्य मंत्री बोले- घबराने की जरूरत नहीं

वहीं अगले दो दिनों में ब्रिटेन से भारत आने वाली उड़ानों में सवार यात्रियों को विमान उतरने के बाद हवाई अड्डे पर अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर जांच करानी होगी.

कई देशों ने रोकी हैं उड़ानें

मालूम हो कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया रूप आने के बाद फ्रांस, जर्मनी, नीदरलैंड, बेल्जियम, ऑस्ट्रिया, रोमानिया, तुर्की और इटली ने भी ब्रिटेन की यात्रा (Britain Flights) पर रोक लगाने का ऐलान कर दिया है. इनके अलावा कोलंबिया, चिली, कनाडा, कुवैत, सउदी अरब सहित कई अन्य देशों ने भी फ्लाइट (Britain Flights) पर रोक लगा दी है.

केजरीवाल और गहलोत ने की थी मांग

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ब्रिटेन में नए प्रकार के वायरस के मिलने पर अपनी चिंता जाहिर की है. केजरीवाल ने कहा कि यूनाइटेड किंगडम में कोरोना के नए स्ट्रेन से हलचल है और वो सुपर स्प्रेडर की तरह काम कर रहा है. ऐसे में भारत सरकार को यूके की सभी फ्लाइट (Britain Flights) बैन करनी चाहिए.

वही राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्वीट में लिखा कि यूनाइटेड किंगडम में कोरोना की नई स्ट्रेन की खबर चिंताजनक है. भारत सरकार को इस मामले में तुरंत एक्शन लेना चाहिए और UK, अन्य यूरोपीय देशों से आने वाली फ्लाइट तुरंत बैन करनी चाहिए. हालांकि स्वास्थ्य मंत्री ने इसके बाद कहा था कि नए स्ट्रेन से भारत को घबड़ाने की जरूरत नहीं है और सरकार स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

गौरतलब है कि ब्रिटेन में कोरोना का नया रूप VUI-202012/01 मिला है. माना जा रहा है कि इस नए रूप के सामने आने के बाद देश-विदेश के विज्ञान जगत में हलचल मच गई है. एक ही दिन में नए स्ट्रेन के 35 हजार से अधिक मामले सामने आने के बाद चिंताजनक स्थिति पैदा हो गई है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें