Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात निकाय चुनाव में एकसाथ उतरेंगी बीटीपी और ओवैसी की एआईएमआईएम

गुजरात निकाय चुनाव में एकसाथ उतरेंगी बीटीपी और ओवैसी की एआईएमआईएम

0
350

विशाल मिस्त्री, राजपीपला: भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) ने कहा है कि वह असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के साथ मिलकर जल्द ही गुजरात में होने वाले निकाय चुनाव लड़ेगी.

इससे पहले राजस्थान के डूंगरपुर जिला पंचायत चुनावों में एक दूसरे का समर्थन करने के बाद BTP ने कहा था कि वह कांग्रेस या भाजपा के साथ हाथ नहीं मिलाएगी. बीटीपी ने कांग्रेस औऱ भाजपा को एक सिक्के के दो पहलू बताया था.

यह भी पढ़ें: गुजरात में कोरोना के 890 नए मरीज मिले, एक दिन में 7 लोगों की मौत

झगड़िया विधायक छोटूभाई वसावा ने कहा कि एआईएमआईएम और बीटीपी (BTP) तालुका और जिला पंचायत चुनाव में सहयोगी होंगे. उन्होंने कहा कि चुनाव जीतने की रणनीति तय करनी अभी बाकी है, लेकिन स्थानीय निगम चुनावों के लिए एआईएमआईएम प्रमुख ओवैसी को गुजरात में प्रचार के लिए आमंत्रित किया था. उन्होंने कहा कि पार्टी का मुख्य मकसद कांग्रेस और भाजपा को हराना था.

वसावा ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस ने लोगों के लिए काम नहीं किया है. बीटीपी (BTP) और एआईएमआईएम के बीच गठबंधन युवाओं के लिए रोजगार के अवसरों पर ध्यान केंद्रित करेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि एससी, एसटी, अल्पसंख्यकों और आदिवासियों की आवाज सुनी जाए.

हाल के चुनावों में एआईएमआईएम और BTP

हैदराबाद स्थित पार्टी एआईएमआईएम ने हाल ही में बिहार विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन किया था और पांच सीटें जीती थीं. एआईएमआईएम ने ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट (जीडीएसएफ) यानी तीसरे फ्रंट के तौर पर बिहार के सीमांचल में 20 में से 14 सीटों पर चुनाव लड़ा और अमौर, जोकीहाट, बहादुरगंज, बैसी और कोचाधामन में जीत हासिल की.

पार्टी मध्य प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने के बारे में भी विचार कर रही है. मध्य प्रदेश में सार्वजनिक कार्यक्रमों के लिए ओवैसी को आमंत्रित करने की भी योजना थी.

राजस्थान विधानसभा में बीटीपी (BTP) के दो विधायक हैं जिन्होंने राज्य में अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस ले लिया था. पार्टी (BTP) ने राजनीतिक संकट के दौरान गहलोत सरकार का समर्थन दिया था लेकिन डूंगापुर में जिला प्रमुख चुनाव में पार्टी के भाजपा से हाथ मिलाने से पार्टी नाराज थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें