Gujarat Exclusive > देश-विदेश > CAA को लेकर मौजपुर के बाद अब करावल नगर में पथराव, कई वाहनों में तोड़फोड़

CAA को लेकर मौजपुर के बाद अब करावल नगर में पथराव, कई वाहनों में तोड़फोड़

0
344

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर विरोध प्रदर्शन लगातार बढ़ता जा रहा है. रविवार को सीएए समर्थक और विरोधी आमने-सामने आ गए. रविवार को पहले दिल्ली के मौजपुर इलाके में पथराव हुआ और रात को करावल नगर में पत्थरबाजी देखने को मिली. इन घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं. इस दौरान कई वाहनों को भी नुकसान पहुंचा है.

इस बीच तनाव को देखते हुए जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशन को सुरक्षा कारणों से बंद किया गया है. इन मेट्रो स्टेशनों से प्रवेश और निकास बंद कर दिए गए हैं. दिल्ली के मालवीय नगर में कई जगह प्रदर्शन किया गया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ट्रैफिक जाम करने की भी कोशिश की. प्रदर्शनकारियों ने एक हॉस्पिटल के सामने भी ट्रैफिक जाम करने का प्रयास किया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों के साथ अभद्रता भी की.

प्रदर्शन के खिलाफ हो रहा है विरोध

दरअसल शनिवार देर रात शाहीन बाग की तरह जाफराबाद में मुस्लिम महिलाएं नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ धरने पर बैठ गईं. साथ ही जाफराबाद में सड़क को बंद कर दिया. इसके बाद चांद बाग में भी मुस्लिम महिलाएं धरना देने लगीं और सड़क को जाम कर दिया. इससे लोगों को दिक्कत होने लगी और लोग सड़क बंद करने के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने लगे.

कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम

इसी तरह रविवार दोपहर करीब तीन बजे जाफराबाद से आधा किलोमीटर दूर मौजपुर में सीएए के समर्थन में लोग सड़क पर निकल आए. भारतीय जनता पार्टी के नेता कपिल मिश्रा भी अपने समर्थकों के साथ सड़क पर उतरे. सीएए समर्थकों ने रास्ता बंद करने के खिलाफ धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया. इस धरना प्रदर्शन में बीजेपी नेता कपिल मिश्रा भी अपने समर्थकों के साथ शामिल हो गए. उधर बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली पुलिस को अल्टीमेटम दिया कि वो तीन दिन के अंदर सड़कों को खाली कराए, वरना सड़क पर फिर से उतरा जाएगा. इसके बाद किसी की नहीं सुनी जाएगी. उन्होंने कहा कि दिल्ली में दूसरा शाहीन बाग नहीं बनने दिया जाएगा. रविवार को सीएए को लेकर विवाद यहीं थमा नहीं और रात होते-होते करावल नगर के शेरपुर चौक में सीएए समर्थक और सीएए विरोधियों के बीच भिड़ंत हो गई.