Gujarat Exclusive > देश-विदेश > नक्सलियों पर नकेल कसने के लिए तोड़ दी गई सप्लाई चेन, दवा के अभाव से 40 की मौत

नक्सलियों पर नकेल कसने के लिए तोड़ दी गई सप्लाई चेन, दवा के अभाव से 40 की मौत

0
349

दंतेवाड़ा: छत्तीसगढ़ पुलिस की सख्ती के बाद नक्सलियों की कमर टूटने लगी है. नक्सलियों के खिलाफ नई रणनीति के तहत चलाए जा रहे आपरेशन की वजह से अब उन तक दवा और रसद नहीं पहुंच पा रही है. एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि नक्सलियों को पहुंचाई जा रही दवा को बीच में रोक देने की वजह से एक दर्जन से अधिक कमांडरों सहित 40 नक्सली मारे गए है.

छत्तीसगढ़ के जंगलों में नक्सलियों के खिलाफ जारी अभियान के तहत नक्सलियों की सप्लाई चेन को नई रणनीति के तहत तोड़ दी गई है. जिसकी वजह से अब नक्सलियों तक दवा और रसद आसानी से नहीं पहुंच रहा है. मिल रही जानकारी के अनुसार जिन 40 नक्सलियों की मौत हुई है उसमें से कुछ कोरोना संक्रमित भी थे.

छत्तीसगढ़ के कांकेर में एक सड़क निर्माण ठेकेदार के प्लांट से प्राप्त दस्तावेजों के आधार पर कई अहम जानकारियां मिली हैं. जिसके बाद नक्सलियों के खिलाफ नई रणनीति तैयार की गई है. नक्सलियों तक पहुंचने वाली दवा आपूर्ति श्रंखला पूर्व की सतर्कता के चलते बाधित हो गई. नतीजतन नक्सलियों में भी बीमारी के मामले बढ़ने लगे हैं.

छत्तीसगढ़ के डीजीपी अशोक जुनेजा ने दावा किया कि दवा सप्लाई चेन टूटने से करीब 40 नक्सलियों को इलाज नहीं मिलने की वजह से उनकी मौत हो गई. मारे गए नक्सलियों में एक दर्जन से ज्यादा कमांडर शामिल हैं. डीजीपी जुनेजा के मुताबिक इलाके के कई नक्सली कोरोना की चपेट में हैं. ऑपरेशन के दौरान एक चिट्ठी मिली थी जिसमें ये खुलासा हुआ था. सुकमा, बीजापुर और दंतेवाड़ा में सक्रिय नक्सली आंध्र के कोरोना संस्करण से प्रभावित हो रहे हैं.

झारखंड के पाकुड़ में बड़ा सड़क हादसा, 8 लोगों की घटनास्थल पर मौत